rainfall

  • अनेक क्षेत्र में दमदार बारिश की प्रतीक्षा

वर्धा. मानसून की बारिश का जिले में आगमन हुआ है. परंतु बारिश की अनियमिता के चलते अभी भी कुछ क्षेत्र में दमदार बारिश की प्रतक्षिा हो रही है. जिससे किसानों में संभ्रम की स्थिति बनी हुई है. परिणाम स्वरुप बारिश के अभाव में बुआई का कार्य रुका हुआ है. वही जिन किसानों ने बुआई की है, उनकी धडकने बढ गई है.

जिले में गत सप्ताह से बारिश का आगमन हुआ है. परंतु जिले के अनेक क्षेत्र में बारिश ही नही हुई है. सभी ओर अच्छी बारिश होकर भी अपने क्षेत्र में बारिश नही होने से किसानों की चिंता बढ गई है. वर्धा व देवली तहसील के अनेक गांवो में अभी तक दमदार बारिश नही हुई है. जिससे बुआई के लिए किसान बारिश की प्रतक्षिा कर रहे है. कुछ किसानों ने बुआई की है. परंतु अंकुरित बीज बचाने अब किसान भागदौड कर रहे है. पहले ही बैंक से कर्ज मिलने में विलंब हो रहा है. उसमें अब ऐसी स्थिति में दोबारा बुआई की नौबत ने किसानों की चिंता बढा दी है. बाजार में बिजों की कल्लित होकर दोबारा बुआई की नौबत आयी तो किसान संकट में पड सकता है.

स्प्रींकलर से फसलों को बचाने का प्रयास
अब कुछ क्षेत्र में बारिश नही होने से किसान चिंतित हो गए है. ऐसे में बोये गए बीजों का नुकसान न हो, इस उद्देश्य से जिनके पास सुविधा है, ऐसे किसान स्प्रींकलर की मदद से फसलों को बचाने की जद्दोजहद में लगे है. परंतु जिनके पास कोई सुविधा नही, ऐसी किसान आसमान की ओर टकटकी लगाए बैठे है.

24 घंटे में 14.56 मिमी बारिश दर्ज
वर्धा शहर सहित जिले भर में 24 घंटे में 14.56 मिमी बारिश दर्ज की गई है. जिसमें वर्धा तहसील में सबसे अधिक 9.10 मिमी, सेलू तहसील में 4.20 मिमी, देवली तहसील में 73 मिमी, समुद्रपुर तहसील में 0.37 मिममी, आर्वी तहसील में 0.16 मिमी बारिश हुई. वही हिंगनघाट, आष्टी व कारंजा तहसील में 24 घंटे के भीतर एक भी बुंद नही गिरी.

वर्धा, देवली, आष्टी में सबसे कम बारिश
जिले में अब तक 870.18 मिमी बारिश हुई है. जिसमें सबसे कम बारिश वर्धा, आष्टी, देवली तहसील में दर्ज हुई है. वर्धा 72.53 मिमी, सेलू 134 मिमी, देवली 95.14 मिमी, हिंगनघाट 103 मिमी, समुद्रपुर 104 मिमी, आर्वी 127.8 मिमी, आष्टी 86.37 मिमी, कारंजा 147.40 मिमी बारिश दर्ज की गई.