वैक्सीनेशन मुहिम की गति बढ़ाए, जिलाधिकारी षण्मुगराजन एस.

    वाशिम. जिले में अभी कोरोना संक्रमण का प्रमाण कम हो रहा है़  लेकिन कोरोना की तीसरी लहर की संभावना से व्यक्तियों का वैक्सीनेशन करने पर विशेष ध्यान केंद्रीत करें. तहसीलस्तर पर सूक्ष्म नियोजन करके वैक्सीनेशन मुहिम की गति बढ़ाने के निर्देश जिलाधिकारी षण्मुगराजन एस. ने दिए है. वे कोरोना की स्थिति का जायजा लेने के लिए दूरदृश्य प्रणाली द्वारा आयोजित तहसीलस्तरीय प्रणाली प्रमुख की जायजा बैठक में बोल रहे थे़.

    इस अवसर पर जिप की मुख्य कार्यकारी अधिकारी वसुमना पंत, निवासी उप जिलाधिकारी शैलेश हिंगे, उप जिलाधिकारी सुनील विंचनकर, संदीप महाजन, जिला शल्य चिकित्सक डा़ मधुकर राठौड़, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा़ अविनाश आहेर, तहसीलदार शीतल सोलट व जिला प्रशासन अधिकारी दीपक मोरे आदि उपस्थित थे़ 

    जिलाधिकरी षण्मुगराजन एस. ने कहा कि जिले के वृद्ध और 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के दिव्यांग व्यक्तियों का वैक्सीनेशन करने के लिए विशेष मुहिम चलाना आवश्यक है़  दिव्यांग व्यक्तियों की ग्रामस्तरीय सूची तैयार करने के लिए समाज कल्याण विभाग से संपर्क करें व उनसे दिव्यांगों की सूची उपलब्ध करें.

    वरिष्ट नागरिक, दिव्यांग व्यक्ति के वैक्सीनेशन के लिए स्वयंसेवी संस्थाओं की सहायता लेना चाहिए़  कोरोना का संक्रमण कम होने से अब वैक्सीनेशन पर अधिक ध्यान केंद्रीत करके 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों का वैक्सीनेशन समय में ही पूरा करे़  शहरी भागों में वैक्सीनेशन के लिए वार्ड स्तरीय नियोजन करना चाहिए. दूकानदार, प्रतिष्ठानधारक व व्यवसायियों का वैक्सीनेशन पूर्ण करने के लिए नगर परिषद ने योग्य नियोजन करना चाहिए.

    वृद्धाश्रम के वरिष्ट नागरिक, मतिमंद, भिखारी और बेघर रहनेवाले 45 वर्ष से अधिक रहनेवाले व्यक्तियों का वैक्सीनेशन करने के लिए विशेष प्रयास होना चाहिए़  टेस्टिंग का प्रमाण कम नही होना इसलिए भी नियोजन करे़  कोरोना टेस्टिंग व वैक्सीनेशन के लिए स्वतंत्र टीम गठित करें. बाजारपेठ, बैंक में कोरोना टेस्टिंग शिविर आयोजित करे. ब्लैक फंगस के लक्षण वाले व्यक्ति की तलाश करने के लिए जिले में स्वास्थ्य विभाग द्वारा सर्वेक्षण करना चाहिए़ 

    ब्लैक फंगस की जनजागृति के लिए विशेष मुहिम   

    जिप मुख्य कार्यकारी अधिकारी पंत ने कहा कि जिले के ग्रामीण भागों में कुछ स्थानों पर वैक्सीनेशन कम हुआ है़  वैक्सीनेशन बढ़ाने के लिए तहसीलस्तर पर जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाकर वैक्सीनेशन करे. उसी प्रकार से ब्लैक फंगस के बारे में जनजागृति करने के लिए जिला परिषद द्वारा विशेष मुहिम चलायी जाएगी़  बैठक में सभी उप विभागीय अधिकारी, तहसीलदार, गटविकास अधिकारी, तहसील स्वास्थ्य अधिकारी, नगर परिषद व नगर पंचायत के मुख्याधिकारी शामिल हुए थे़.