शहर में हो रही मिट्टीयुक्त जलापूर्ति

वाशिम. विगत कुछ दिनों से शहर में नप प्रशासन की ओर से मिट्टी युक्त व दूषित जलापूर्ति की जा रही है. जिससे नागरिकों के स्वास्थ्य के लिए खतरा निर्माण हो गया है़ जिला प्रशासन ने गंभीरता से दखल लेकर नगर

वाशिम. विगत कुछ दिनों से शहर में नप प्रशासन की ओर से मिट्टी युक्त व दूषित जलापूर्ति की जा रही है. जिससे नागरिकों के स्वास्थ्य के लिए खतरा निर्माण हो गया है़ जिला प्रशासन ने गंभीरता से दखल लेकर नगर परिषद प्रशासन के संबंधित अधिकारी व पदधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग नागरिकों व्दारा की जा रही है़ वाशिम शहर को एकबुर्जी तालाब से जलपुर्ति की जाती है़ विगत कुछ महिनों से नगर परिषद प्रशासन की ओर से शहर के विविध भागों में 10 से 15 दिनों के बाद जलापूर्ति की जा रही है़

शहरवासियों व्दारा अधिक पैसे देकर भी शहरवासियों के लिए अपेक्षित जलापूर्ति नहीं की गई़-जल शुध्दीकरण प्रकल्प भी लगा है
शहरवासियों को शुध्द जल उपलब्ध हो इसलिए जल शुध्दीकरण प्रकल्प भी यहा पर है़ बताया जा रहा है़ इस जलशुध्दिकरण में ज्यो आलम नाम का पदार्थ का उपयोग किया जाता है़ उस आलम पदार्थ पर भी बुरशीजन्य पदार्थ बड़े प्रमाण में बढ़ने से नागरिकों इस बुरशीजन्य विषाणु बीमारी होने की संभावना निर्माण होने की चर्चा शहर में जोर पकड़ रही है़ इन दिनों शहर के कुछ भागों में मिट्टी युक्त पीले रंग का पानी मिलने से व 10 से 15 दिन यह पानी घर में पीने के लिए संग्रहित करके रखने से बिमारियां होने की संभावना नागरिकों व्दारा बतायी जा रही है़ इस वर्ष शहर में बढ़ते तापमान से शहरवासियों के लिए पानी के लिए भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. इसे गंभीरता से लेकर जिला प्रशासन ने ‍शीघ्र दखल लेकर संबंधितों पर कार्रवाई करके शहरवासियों को शुध्द , स्वच्छ जल उपलब्ध कराने की मांग शहरवासियों व्दारा की जा रही है़