Emissions of greenhouse gases will increase global sea level by 15 inches: NASA study
File

वेलिंगटन: कोरोना वायरस (Corona Virus) से बचने के लिए अतिरिक्त एहतियाती उपाय अपनाते हुए कई महीनों के बाद सोमवार को पहली अमेरिकी (American) उड़ान अंटार्कटिका (Antarctica) पहुंची। अंटार्कटिका ऐसा एकमात्र महाद्वीप (Continent) है, जहां वायरस का एक भी मामला नहीं है और यह सुनिश्चित करने के लिए एक वैश्विक प्रयास शुरू किया है कि यहां आने वाले वैज्ञानिक और कर्मचारी अपने साथ यह जानलेवा वायरस लेकर न आएं।

न्यूजीलैंड (New Zealand) में अमेरिकी अंटार्कटिक कार्यक्रम के प्रतिनिधि टोनी जर्मन ने बताया कि अमेरिकी वायु सेना की उड़ान सोमवार को 106 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को लेकर क्राइस्टचर्च (Christchurch) के गेटवे (Gateway) शहर से रवाना हुई। उन्होंने बताया कि बड़े तूफानों के कारण इस उड़ान में तीन सप्ताह का विलंब हुआ। उन्होंने बताया कि चालक दल के सदस्यों को चार दिन के लिए सान फ्रांसिस्को में पृथक-वास में रहे और इसके बाद पांच सप्ताह तक न्यूजीलैंड में पृथक-वास में रहे। (एजेंसी)