imran khan

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। इमरान खान ने एक इंटरव्यू (Interview) में यौन हिंसा के लिए महिलाओं के कम कपडे पहनने को जिम्मेदार ठहराया है। इमरान खान ने महिलाओं (Women) को ‘पर्दे’ में रहने की भी सलाह दी है। इस इंटरव्यू के दौरान इमरान खान ने कहा है कि, ‘महिलाओं के छोटे कपड़े पहनने से मर्दों पर असर पड़ेगा’।   

    कम कपड़े पहनने का मर्दों पर पड़ेगा असर- इमरान खान

    एचबीओ एक्सिओस को हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में इमरान खान से जब पत्रकार ने पाकिस्तान में रेप पीड़िता को कसूरवार ठहराए जाने के एक मामले में उनसे सवाल पूछे तो पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने जवाब में कहा, कोई महिला बहुत कम कपड़े पहनती है, तो इसका असर मर्दों पर पड़ेगा, क्यूंकि वे रोबोट नहीं हैं। यह एक कॉमन सेंस की बात है। 

    फिर दी सफाई

    अपने इस बयान के फौरन बाद इमरान खान ने साफ़ किया कि, उन्होंने रेप पीड़िता पर कभी भी कोई टिप्पणी नहीं की है। बल्कि उन्होंने तो सिर्फ इतना कहा था कि, ‘पर्दे की व्यवस्था समाज में लुभाए जाने से बचने के लिए है। इमरान खान ने इस इंटरव्यू में बताया कि, वैसे पाकिस्तान में डिस्को या नाइट क्लब नहीं हैं और यहां बिलकुल अलग समाज है, जहां जीने का तरीका अलग है। अगर आप यहां पर प्रलोभन बढ़ाएंगे और युवाओं को कहीं जाने का मौका नहीं होगा। अब इसके कुछ न कुछ परिणाम तो सामने आएंगे ही।

    अब हो रही है इमरान खान की आलोचना

    पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के महिलाओं के कम कपडे पहनने वाले बयान को लेकर अब उनकी जम कर आलोचना हो रही है। इंटरनेट पर उनका यह बयान तेज़ी से वायरल हो रहा है और दुनियाभर से इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर रिएक्शन आ रहे हैं। वहीं पाकिस्तान में भी विपक्षी दल उनकी आलोचना कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, इमरान खान के बयान पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने इमरान को बीमार और महिला विरोधी करार दिया।