Indian Americans in Chicago come in support of Israel

    यरूशलम: इजराइल (Israel) के प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) (UAE) की यात्रा रद्द कर दी है। नेतन्याहू के कार्यालय ने यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री कार्यालय ने यात्रा रद्द होने के लिये जॉर्डन (Jordon) सरकार के साथ मतभेद का हवाला दिया है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि ”प्रधानमंत्री के विमान की उड़ान के लिये जॉर्डन के वायु मार्ग के इस्तेमाल को लेकर समन्वय स्थापित करने में दिक्कतों के चलते” अगले आदेश तक यात्रा रद्द कर दी गई है।

    बयान में कहा गया है कि जॉर्डन के क्राउन प्रिंस हुसैन बिन अब्दुल्ला द्वितीय की बुधवार को रद्द हुई यरूशलम स्थित मस्जिद अल-अक्सा की यात्रा से यह विवाद उपजा। इसमें कहा गया है कि किंग हुसैन बॉर्डर क्रासिंग पर इजराइली अधिकारियों के साथ उनकी (युवराज की) सुरक्षा को लेकर असहमति के कारण हुसैन को वापस लौटना पड़ा।

    इजरायली मीडिया में आई खबरों के अनुसार युवराज के साथ हथियारबंद कर्मियों की संख्या को लेकर इजरायल के अधिकारियों के साथ सहमति नहीं बन सकी। जॉर्डन सरकार ने इस मामले पर तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि यूएई के साथ पिछले साल द्विपक्षीय संबंधों के बाद किसी इजराइली प्रधानमंत्री की इस पहली ऐतिहासिक यात्रा को लेकर यूएई अधिकारियों के साथ मिलकर दोबारा कार्यक्रम तय किया जाएगा।

    इससे पहले दिन में नेतन्याहू की पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराए जाने के बाद यात्रा के होने को लेकर आशंकाएं गहरा गई थी। सारा नेतन्याहू को बृहस्पतिवार को एपेंडिक्स संक्रमण के चलते यरूशलम स्थित हादाशाह मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया। मिस्र और जॉर्डन के बाद अगस्त में इजरायल के साथ औपचारिक राजनयिक संबंध बहाल करने वाला यूएई तीसरा देश बना।