The man who attacked in the Church of France was a Tunisian citizen, had the Quran in his hand
Image: AFP

नीस: फ्रांस (France) का पैगंबर कार्टून (Cartoon) विवाद में टीचर का गला काटकर हत्‍या (Teacher Beheaded) का मामला कुछ दिन पहले ही सामने आया था  कि एक और हत्‍या का मामला सामने आया है। फ्रांस के एक चर्च (Church) में हमलावर ने एक महिला का गला काट कर हत्या कर दी और दो को मौत के घाट उतार दिया है।

फ्रांस के नीस  शहर में हुई इस वारदात पर शहर के मेयर क्रिस्चियन इस्‍तोर्सी (Christian Estrosi) ने आतंकवाद (Terrorism) करार दिया है। इंटरनेशनल मिडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अटैक शहर के नोट्रे डेम चर्च (Notre-Dame Church) में हुआ है। पुलिस ने हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के विरोध में नेशनल असेंबली में मौन रखा गया। 

घटना के बाद चर्च और आसपास के इलाके में भारी पुलिस बल तैनात है। कुछ देर बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों भी आधिकारिक बयान आने की उम्मीद है। वहीं यह हमला ऐसे समय पर हुआ है जब कुछ समय पहले ही फ्रांसीसी टीचर की पैगंबर का कार्टून द‍िखाने पर हत्‍या कर दी गई थी। हालांकि टीचर की हत्या करनेवाले शख्स को बाद में पुलिस ने मार गिराया था।

घटना के बाद फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुअल मैक्रों (Emmanuel Macron) ने अभिव्‍यक्ति की आजादी का समर्थन किया है और उनके मामले में दिए गए बयान को लेकर वह मुस्लिम देशों की आलोचना का शिकार हो गए थे साथ ही कई देशों में फ्रांस के प्रोडक्ट्स के बहिष्कार का भी होने लगा है। वैसे बता दें कि, फिलहाल ये साफ़ नहीं हो पाया है कि चर्च में चाकू से अटैक करके लोगों की हत्‍या करने के पीछे मकसद क्‍या था।  

 

चर्च में हमले के बाद खतरे के स्तर को बढ़ाकर अधिकतम किया जाएगा

फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने कहा है कि हमले में तीन लोगों की मौत के बाद देश में खतरे के स्तर को बढ़ाकर अधिकतम किया जाएगा। उन्होंने देश में कोरोना वायरस पर काबू के लिए दूसरी बार लॉकडाउन लागू किए जाने से कुछ घंटे पहले यह घोषणा की। इससे पहले अधिकारियों ने बताया था कि भूमध्यसागरीय शहर नीस में बृहस्पतिवार को एक गिरिजाघर में चाकू से किए गए हमले में तीन लोगों की मौत हो गयी। पिछले दो महीनों में पेरिस में यह तीसरा हमला है। एक पत्रिका में पैगंबर साहब पर कार्टून के पुन: प्रकाशन के बाद पैदा हुए आक्रोश के बीच यह घटना हुयी है।