Shah Salman of Saudi Arabia described Iran as the biggest threat

दुबई: सऊदी अरब (Saudi Arab) के शाह सलमान (Shah Salman) ने बृहस्पतिवार को दिए अपने वार्षिक भाषण में प्रतिद्वंद्वी ईरान (Iran) की आलोचना की और कोरोना वायरस (Corona Virus) को नियंत्रित करने और तेल की आपूर्ति को स्थिर करने के लिए उठाए गए अपने देश के कदमों की प्रशंसा की।

सऊदी अरब के वलीअहद मोहम्मद बिन सलमान (Muhammad Bin Salman) की उपस्थिति में शूरा परिषद में वीडियो कांफ्रेंस (Video Conference) के जरिए दिए गए भाषण में 82 वर्षीय शाह सलमान ने देश की नीतिगत प्राथमिकताओं और उपलब्धियों को रेखांकित किया। विदेश नीति पर सलमान ने जोर देकर कहा कि ईरान चिंता का सबसे बड़ा कारण बना हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि ईरान आतंकवाद का समर्थन कर रहा है और क्षेत्र में जातीय भावनाएं बढ़ाने की कोशिश कर रहा है।

शाह ने राष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित जो बाइडन (Joe Biden) के नेतृत्व वाले नए अमेरिकी प्रशासन के साथ संबंध के बारे में अपने भाषण में इसका जिक्र नहीं किया। सऊदी नेतृत्व ने प्रतिद्वंद्वी ईरान पर अधिकतम दबाव की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) की नीति का पुरजोर तरीके से समर्थन किया था।

सऊदी शाह ने कहा, ‘‘यह सुनिश्चित करने के लिए कि ईरान जनसंहार के हथियार को हासिल नहीं कर सके, कड़े उपाय करने की जरूरत है।” उन्होंने जोर देकर कहा कि क्षेत्र को लेकर बनाई गई ईरानी शासन की योजना खतरा पैदा कर रही है।”