राष्ट्रपति का ट्वीट डिलीट करने पर भड़का नाइजीरिया, सरकार ने इतेमाल पर लगाई रोक

    लागोस. अफ्रीकी देश नाइजीरिया (Nigeria) की सरकार ने देश भर में ट्विटर (Twitter) की सेवाएं अनिश्चितकाल के लिए रोक दी हैं जिसके चलते लाखों लोग शनिवार को ट्विटर का इस्तेमाल नहीं कर सके। नाइजीरिया के ‘द असोसिएशन ऑफ लाइसेंस्ड टेलिकम्युनिकेशन ऑपरेटर्स’ ने एक बयान में कहा कि उसके सदस्यों ने सरकारी निर्देश के अनुसार ट्विटर की सेवाएं बंद कर दी हैं। दरअसल शुक्रवार को नाइजीरिया की सरकारी ने कहा था कि वह ‘माइक्रोब्लॉगिंग साइट’ की सेवाओं पर रोक लगा रही है क्योंकि ट्विटर ने अलगाववादी आंदोलन पर राष्ट्रपति मोहम्मदु बुहारी (Muhammadu Buhari) का ट्वीट हटा दिया है।

    सूचना एवं संस्कृति मंत्री लाई मोहम्मद ने शुक्रवार को कहा कि सरकारी अधिकारियों ने ट्विटर की सेवाओं पर रोक लगाने का निर्णय लिया क्योंकि इस मंच का इस्तेमाल ‘‘ऐसी गतिविधियों के लिए हो रहा है जो नाइजीरिया के कॉरपोरेट अस्तित्व को कमजोर करने की क्षमता रखती हैं।” उन्होंने राष्ट्रपति के पोस्ट को हटाने के लिए ट्विटर की आलोचना की और कहा, ‘‘नाइजीरिया में ट्विटर का मिशन संदिग्ध है” और ट्विटर ने पूर्व में देश की सरकार के खिलाफ भड़काऊ ट्वीट को अनदेखा किया था।

    गौरतलब है कि हाल के महीनों में बिआफरा अलगाववादी संगठन पर पुलिस थानों और सरकारी इमारतों पर हमला करने के आरोप लगे थे। राष्ट्रपति का ट्वीट इसी से संबंधित था। ट्वीट में बुहारी ने ‘‘उनके साथ उसी तरह का बर्ताव करने का प्रण लिया था, जो भाषा उन्हें समझ आती है।” ट्विटर ने बुहारी के इस पोस्ट को अपमानजनक बताया और बुधवार को उसे हटा दिया था। ट्विटर की सेवाएं बंद करने के सरकार के निर्णय की काफी आलोचना हो रही है। (एजेंसी)