Fruit seller beaten to death for non-payment of borrowings

वणी. आज शुक्रवार को सुबह वणी के नांदेपेरा मार्ग पर वांजरी परिसर के खेत में एक महिला का शव दिखाई दिया. इस महिला की पत्थर से कुचलकर निर्ममता से हत्या होने का मामला उजागर होने से शहर में खलबली मच गई. दौरान सुबह महिला के शव का फोटो वॉटसएप पर वायरल होने से युवति की शिनाख्त हुई. मृतक महिला विवाहिता होकर वह वणी के पटवारी कॉलनी निवासी होने की जानकारी है. 

मृतका जया मनोज आवारी (32) यह मूलत: तहसील के पिंपलगांव निवासी है. वह विवाहित थी, लेकिन 6 बरसों से वह पति से अलग रह रही थी. वणी के बस डिपो के पिछे स्थित पटवारी कालनी परिसर में उसके 10 वर्षिय व 6 वर्षिय दो बेटों के साथ किराये के मकान में रहती थी. घटना के पूर्व रात 8 बजे के दौरान अपने बच्चों को मामा के यहां जाकर आती हूं, ऐसा कहकर निकली थी, लेकिन बहोत समय बीत जाने के बाद भी वह घर नहीं लौटी. जिससे परिजनों ने उसकी रातभर खोजबीन की. 

वणी-नांदेपेरा मार्ग पर स्थित रसोया फॅक्ट्री से कुछ ही दूरी पर स्थित बडवाईक का खेत है. सुबह उनके सालगडी को गोठे से बैल को निकालते समय एक महिला शव दिखाई दिया. उसने तुरंत अपने मालीक को जानकारी दी. मालीक मामला गंभीर देखकर तुरंत इसकी जानकारी वांजरी के पुलिस पाटिल को दी. पुलिस पाटिल ने वणी पुलिस को जानकारी दी. सुबह 9.30 बजे के दौरान पुलिस अपने दल के साथ घटनास्थल पहुंची. घटनास्थल पर पंचनामा करने पर महिला पर पिछे से हमला करने की बात स्पष्ट हुई.

वॉटसऍप से हुई शिनाख्त

सुबह, इस युवती की फोटो वणी में विभिन्न वॉट्सएप ग्रुपों पर वायरल हुई. फोटो मृतक महिला की चचेरे भाई के वॉट्सएप पर भी आया था. इस बीच, मृतक के पिता भगवान मत्ते निवासी पिंपलगांव तहसील वणी का एक फोन आया और उन्होंने बताया कि उनकी बेटी कल रात से लापता है. मृतक के चचेरे भाई ने कहा कि शव की एक तस्वीर वाट्सएप पर वायरल होने की जानकारी दी और उसने मृत महिला के पिता को फोटो भेज दी. फोटो देखकर, भगवान मत्ते ने महसूस किया कि शव उनकी बेटी का था. उसने तुरंत वापस फोन किया और अपने भतीजे को सूचित किया. वह मौके पर पहुंचे और मृतक की पहचान के बारे में पुलिस को सूचित किया. 

पत्थर से कुचलकर महिला शव  मिलने से शहर में खलबली मच गई. घटना की गंभीरता को देखते हुए उपविभागीय पुलिस अधिकारी संजय पुज्जलवार, सहायक पुलिस निरीक्षक एकाडे, सहायक पुलिस निरीक्षक माया चाटसे घटनास्थल पहुंचे. हत्या की यह घटना मध्यरात्री के दौरान होने का प्राथमिक अनुमान लगाया जा रहा है. इस मामले में मामला दर्ज करने की प्रक्रिया चल रही थी.

महिला वहां कैसे पहुंची?

मृतक महिला रात करीब 8 बजे घर से यह कहकर निकल गई कि वह अपने मामा के घर जा रही है और अगले दिन उसका मोबाइल फोन मौके पर नहीं मिला. इसके अलावा, इतनी रात को महिलाएं वहां कैसे पहुंचीं? क्या कोई उसके साथ था? पुलिस को इस तरह के विभिन्न मुद्दों को हल करने के लिए एक चुनौती का सामना करना पड़ रहा है. खबर लिखे जाने तक पुलिस ने दो संदिग्धों को कब्जे में लिया था.