pandey

    औरंगाबाद. इन दिनों शहर में कोरोना (Corona) कहर बरपा रहा है। हर दिन हजारों नागरिक महामारी से संक्रमित पाए जा रहे हैं। इसी दौरान मनपा प्रशासक और कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय (Commissioner Astik Kumar Pandey) कोरोना से संक्रमित (Corona Infected) होकर पॉजिटिव (Positive) पाए गए है। शनिवार की सुबह से उन्हें बुखार और अन्य कुछ तकलीफें दिखाई दे रही थी। इस पर उन्होंने तत्काल आरटीपीसीआर टेस्ट करवाई। स्वैब टेस्ट की रिपोर्ट रविवार की सुबह मिली, जिसमें आस्तिक कुमार पांडेय पॉजिटिव पाए गए।

    कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मनपा प्रशासक आस्तिककुमार पांडेय होम आइसोलेशन में इलाज करवा रहे हैं। मनपा के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राठोडकर ने बताया कि शनिवार की सुबह से कमिश्नर को बुखार आने पर उन्होंने तत्काल अपनी कोरोना टेस्ट करवाई। आरटीपीसीआर टेस्टिंग के लिए उन्होंने अपना स्वैब दिया। उसकी रिपोर्ट रविवार की सुबह आई, जिसमें पांडेय कोरोना पॉजिटिव पाए गए। रिर्पार्ट में कोरोना के नॉर्मल सिस्टम्स दिखाए दिए।

    कई अधिकारी मिले पाॅजिटिव

    गौरतलब है कि बीते एक पखवाड़ा में मनपा की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नीता पाडलकर, मनपा के शहर अभियंता सखाराम पानझडे, कार्यकारी अभियंता हेमंत कोल्हे कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इन अधिकारियों के बाद मनपा प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय पॉजिटिव पाए गए। विशेष बात यह है कि प्रशासक पांडेय ने कोरोना महामारी से बचने के लिए कोरोना का टीका भी लगाया गया था। जो अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे है, उन सभी ने टीके लगवाए थे, इसके बावजूद  टीका लिए अधिकारी ही कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर कोरोना टीके पर भी सवालिया निशान लग रहे हैं। इससे पूर्व मराठवाडा के सबसे घाटी अस्पताल की डीन डॉ. कानन येलीकर ने दो टीके लगाए थे। इसके बावजूद वह गत माह कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी।