bird flu
file

औरंगाबाद. पक्षियों के लिए जानलेवा बननेवाली बीमारी बर्ड फ्लू (Bird Flu) ने महाराष्ट्र (Maharashtra) में पांव पसारने के बाद औरंगाबाद महानगरपालिका प्रशासन (Aurangabad Municipal Corporation Administration) अलर्ट हो गया है। सरकार के निर्देश पर मनपा प्रशासन ने सभी प्रभाग अधिकारियों को वार्ड निहाय तालाब, नदियां, गार्डन, बड़े पेड इन स्थानों पर वॉच रखकर पक्षियों के असाधारण मौत से पाए जाने पर तत्काल जानकारी देने की सूचना जारी की गई है। 

बर्ड फ्लू के पांव पसारने की आशंका के बीच औरंगाबाद महानगरपालिका ने इस बीमारी के नियंत्रण के लिए सेन्ट्रल नाका पर स्थित पशु चिकित्सालय में स्वतंत्र कंट्रोल रूम (Control Room) स्थापित किया है। इस कंट्रोल रुम में काम के लिए 4 अधिकारियों की नियुक्ति की गई है।

 महाराष्ट्र में भी कई स्थानों पर पक्षियों की मौत

बर्ड फ्लू ने महाराष्ट्र में पांव पसारने के बाद हजारों पछियों और मुर्गियों की मौत होने के कई मामले सामने आ रहे है। राज्य के मुंबई, रत्नागिरी, ठाणे, परभणी, बीड, लातूर इन जिलों में बर्ड फ्लू से कई पछियों के मौत हुई है। जिससे राज्य में खलबली मची है। इसको लेकर राज्य में सभी मृत पछियों के मिलने पर उचित कार्रवाई कर उसका रिपोर्ट भेजने का आदेश जारी किया गया है। सरकार के निर्देश पर मनपा क्षेत्र में स्थित छोटे जलमार्ग, तालाब, सलीम सली सरोवर, खाम नदी, सुकना नदी, गार्डन, बडे़ पेड इन स्थानों पर वन्य पक्षियों अथवा स्थलांतरित पक्षियों के असाधारण मौत से मृत पाए गए, तो मनपा के पशु संवर्धन विभाग के अतिरिक्त आयुक्त और जिला पशु वैद्यकीय चिकित्सालय से संपर्क करने की अपील मनपा के अतिरिक्त आयुक्त बी.बी. नेमाने ने की। मनपा ने स्थापित किए कंट्रोल रूम के प्रमुख के रुप में पशुधन विकास अधिकारी डॉ. एस.ए. कादरी, पशुधन पर्यवेक्षक शेख शाहेद, मजुर देवनाथ हिंगमिरे, शेख मतीन इनकी नियुक्ति की गई है।