Nitin raut

    औरंगाबाद. महाराष्ट्र (Maharashtra) में महाविकास आघाडी सरकार स्थापित होने के बाद राज्य में जो गंभीर संकटों के अलावा आपदाएं आई, उन संकटों और आपदाओं पर ऊर्जा विभाग ने मात देकर जनता को सुचारू बिजली आपूर्ति (Smooth Power Supply) करने में कामयाब रहा। यह दावा राज्य के ऊर्जा मंत्री डॉ. नितिन राउत (Energy Minister Dr. Nitin Raut) ने शुक्रवार को यहां किया।

    औरंगाबाद दौरे पर आए ऊर्जा मंत्री डॉ. राउत के हाथों बिजली विभाग के कई कामों का उद्घाटन और लोकार्पण किया गया। इसी दौरान आयोजित पत्रकार परिषद में डॉ. राउत ने बिजली विभाग के काम की प्रशंसा करते हुए गत देढ़ साल में ऊर्जा विभाग के मातहत कार्य करनेवाली कंपनियों के अधिकारियों और कर्मचारियों के कार्यों की प्रशंसा की। 

    कोंकण में दो बार तूफान आया

    राउत ने बताया कि कोंकण में दो बार तूफान आया। गत वर्ष आए तूफान में बड़े पैमाने पर कोंकण में नुकसान के बाद भी चंद दिनों में ही बिजली विभाग वहां की जनता को सुचारू बिजली आपूर्ति करने में कामयाब रहा। उसके बाद मुंबई पूरी तरह पहली बार अंधेरे में डूबी थी। तब भी बिजली विभाग ने सिर्फ 3 घंटे में मुंबई की बिजली आपूर्ति सूचारु की। गत माह कोंकण में आए तुफान के बाद बड़े पैमाने पर बिजली आपूर्ति में बाधाएं आई। उन बाधाओं को लगभग पूरी तरह दूर कर दिया गया है। हर साल तूफान आ रहा है, ऐसे में ऊर्जा मंत्रालय स्थायी उपाय योजनाएं करने में जूटा है। उसको लेकर हम काम कर रहे है। उसका डीपीआर का करने का काम जारी है। डीपीआर होते ही हम स्थायी उपाय योजनाओं पर काम करने में जूटेंगे। 

    बिजली बिल माफ करना असंभव 

    कोरोना काल में परेशान जनता को बिजली बिल भरने के लिए ऊर्जा विभाग से राहत दी जा सकती,  परंतु बिजली बिल माफ करना यह राज्य सरकार के हाथ में नहीं है क्योंकि सार्वजनिक कंपनियां चलाने के लिए बहुत पैसा लगता है। इसलिए हर बिजली ग्राहक को बिल अदा करना ही होगा। बिजली बिल माफ करने का निर्णय केन्द्र सरकार ही ले सकता है। केन्द्र सरकार ने मदद की तो राज्य सरकार भी इसके लिए आगे आएगी। किसान भी हमारा अन्नदाता है, उसे भी सुचारू बिजली मिलनी चाहिए। उसके अधिकार और हक की बिजली मिलनी चाहिए। उस दृष्टिकोन से कृषि बिजली कनेक्शन यह कार्यक्रम महाऊर्जा अभियान के तहत चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत  मराठवाडा में बेहतर रुप से काम जारी है। 

    मराठवाडा में बिजली की किल्लत को दूर किया जाएगा 

    ऊर्जा मंत्रालय का प्रयास है कि राज्य के हर नागरिक को 24 घंटे बिजली मिली। उसका नियोजन करने ही आज मैं औरंगाबाद पहुंचा हूं। बिजली देना हमारा कर्तव्य है। बिजली ग्राहक हमारा देवता है। देवता की देखरेख करना हमारी जिम्मेदारी है। हाल ही में सेवानिवृत्त हुए महावितरण के सहव्यवस्थापकीय संचालक डॉ. नरेश गिते के मार्गदर्शन में मराठवाडा में बेहतर काम हुआ। वर्तमान में महावितरण के स्थानीय अधिकारी बेहतर काम कर रहे है। स्थानीय अधिकारी घरेलू सहित एमआईडीसी क्षेत्रों के उद्योगों को भी सुचारू बिजली आपूर्ति करने दिन-रात जुटे हुए हैं। जल्द ही औरंगाबाद सहित मराठवाडा में बिजली की किल्लत दूर की जाएगी।

    हर गांव तक बिजली पहुंचाने का प्रयास जारी 

    एक सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि  ऊर्जा मंत्रालय ने राज्य के हर गांव तक बिजली पहुंचाने के लिए एक प्लान निश्चित किया है। उसके अनुसार काम जारी है। उन्होंने माना कि  राज्य के कुछ इलाकों के छोटे-छोटे कस्बों में बिजली नहीं पहुंच पाई, परंतु अब ऊर्जा मंत्रालय पूरी तरह से राज्य के हर कोने-कोने तक बिजली  पहुंचाने के लिए नियोजन कर रहा है। हमारा प्रयास है कि हर गांव में बिजली पहुंचे। उन्होंने बताया कि अब नए औष्णिक प्रकल्प स्थापित नहीं किए जाएंगे। जो है, वहीं शुरु रहेंगे। ऊर्जा मंत्रालय का प्रयास है कि अधिक से अधिक बिजली उत्पादन का काम सौर ऊर्जा के माध्यम से किया जाए। उससे सभी को फायदा होने के साथ ही बड़े पैमाने पर रोजगार भी उपलब्ध होगा। 

    सीएम उद्धव ठाकरे बेहतर काम कर रहे है

    जब उनसे राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अकेले में पीएम मोदी से मुलाकात करने को लेकर राज्य भर लगाए जा रहे कयासों पर सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि महाविकास आघाडी सरकार के कप्तान सीएम उद्धव ठाकरे बेहतर काम कर रहे है। उन्होंने पूर्व सीएम देवेन्द्र फडणवीस पर तंज कसते हुए कहा कि हमारी सरकार का गठन दिन में हुआ था। नाकि, सुबह-सुबह, जिसके चलते तीनों दलों की सरकार 5 साल तक सत्ता में कायम रहेंगी। उन्होंने राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे के काम की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके द्वारा किए गए नियोजनबद्ध काम से ही महाराष्ट्र में हम कोरोना की पहली और दूसरी लहर पर जल्द काबू पा सकें। मुबई में लाखों  की जनसंख्या होने के बावजूद सरकार वहां कोरोना पर काबू पाने में कामयाब रही। राउत ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के बाद तीसरी लहर का मुकाबला करने बिजली विभाग सक्षम किया जा रहा है। पत्रकार परिषद में फल उत्पादन मंत्री संदिपान भुमरे, सांसद इम्तियाज जलील, कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. कल्याण काले, शहराध्यक्ष हिशाम उस्मानी उपस्थित थे।