Problems of villages near highways should be solved Chandrakant Khaire

    औरंगाबाद. राष्ट्रीय महामार्ग-52 (National Highway-52) के पास बसे गांवों (Villages) की समस्या (Problem) तत्काल हल किए जाए। स्थानीय नागरिकों के मांगों का सहानुभूतिपूर्वक विचार कर उन्हें हल करने की सूचना शिवसेना नेता चन्द्रकांत खैरे (Shiv Sena leader Chandrakant Khaire) ने की। जिले के गल्ले बोरगांव, हतनुर, पानपोई फाटा, कन्नड बाईपास तथा अंधानेर इन स्थलों का दौरा कर खैरे ने उपाय योजना करने की संबंधितों को सूचना की।

    गत 5 दिन से एक लाख हस्ताक्षर की मुहिम कन्नड के शिवसेना तहसील संगठक व संघर्ष समिति के अध्यक्ष डॉ. अण्णासाहाब शिंदे ने शुरु की है। यह समस्या डॉ. शिंदे ने शिवसेना नेता खैरे के पास पेश की थी। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को खरीखोटी सुनाते हुए स्थल का दौरा करने के लिए बाध्य किया। इस अवसर पर प्रकल्प संचालक अविनाश काले, महेश पाटिल उपस्थित थे. खैरे ने एलोरा से चालीसगांवऔटूम घाट तक का दौरा किया। रेलवे यातायात और महामार्ग के लिए बंद किया गया टनल का काम जल्द से जल्द शुरु करने के आदेश सेना नेता खैरे ने दिया।

    उस पर प्रकल्प संचालक काले, देवतकर और अधिकारियों ने आ रही समस्याएं व अड़चनों पर विस्तृत उपाय योजना के साथ वाली जानकारी दिल्ली के मुख्य वरिष्ठ अधिकारियों को दिए जाने से अवगत कराया। एलोरा और चालीसगांव घाट, औट्रम घाट महामार्ग के निर्माण हुए समस्याओं का दौरा करने के लिए एक दल जल्द ही यहां आने की जानकारी भी दी। इस अवसर पर सरपंच अशोक दाबके, राजू राठोड, डॉ. एसके जाधव, डॉ. सदाशिव पाटिल, विजय बारगल आदि स्थानीय नागरिक उपस्थित थे।