Eid
Representational Pic

भंडारा. कोराना की वजह से डाली गयी पाबंदियां एवं सोशल डिस्टंस की सलाह का सीधा असर त्यौहारों के आयोजन के स्वरूप पडा है. शनिवार को मुस्लिमधर्मियों की बकरी ईद के त्यौहार भी बेहद सादगी एवं सीमित तौर पर मनाया गया. लोगों ने घर में ही ईद की नमाज पढी. ईद के अवसर पर छोटे बडे शहर एवं गाव में निकाले जानेवाले जुलस इस बार नहीं निकले. ईद की वजह से बाजार में अधिकतर दुकानें भी बंद थी. लोगों ने अपने परिजनों के साथ वक्त बिताकर त्यौहार को मनाया.

घर से ही दी गयी ईद मुबारक की बात
शनिवार को प्रात 6 बजे की नमाज होने के कारण सभी लोगों ने नये कपडे पहनकर घर में नमाज अदा करते हुए बकरी ईद की एक दुसरे को मुबारक बात देते हुए दिखायी दिए. कोरोना के चलते बकरी ईद होने से मुस्लीम बांधवों ने मोबाईल से एक दुसरे को एवं रिश्तेदारों को बकरी ईद की मुबारक बात दी गयी. शनिवार को जगह जगह मश्चिदों में पुलिस का पहारा दिखायी देकर मश्चिदों को ताले लगे हुए थे.