india vs england odi match Focus on Shikhar Dhawan, as India eyes winning start in ODI series against England

अब इयोन मोर्गन की अगुवाई वाली टीम अपनी इन कमियों को दूर करके दौरे का सकारात्मक अंत करना चाहेगी।

    पुणे. टेस्ट और टी20 में शानदार वापसी करने वाली भारतीय टीम विश्व चैंपियन इंग्लैंड (India vs England ODI Series) के खिलाफ मंगलवार से यहां शुरू हो रही तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में जीत से शुरुआत करने की कोशिश करेगी जिसमें सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। दूसरी तरफ इंग्लैंड ने टेस्ट और टी20 में जीत से शुरुआत की थी लेकिन इन दोनों प्रारूपों में वह लय बरकरार रखने में नाकाम रहा था। अब इयोन मोर्गन की अगुवाई वाली टीम अपनी इन कमियों को दूर करके दौरे का सकारात्मक अंत करना चाहेगी।

    धवन (Shikhar Dhawan) के लिये विशेषकर यह श्रृंखला काफी महत्वपूर्ण है। यह 35 वर्षीय सलामी बल्लेबाज अहमदाबाद में पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय में प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहा जिसके बाद उन्हें अन्य मैचों में मौका नहीं दिया गया। भारत के पास शीर्षक्रम में कई विकल्प मौजूद हैं। शुभमन गिल अभी टीम में हैं जबकि पृथ्वी सॉव और देवदत्त पडिक्कल भी अपना दावा पेश कर रहे हैं और ऐसे में धवन के लिये यह मैच अग्नि परीक्षा से कम नहीं होगा।

    पूरी संभावना है कि रोहित शर्मा के साथ धवन पारी की शुरुआत करेंगे। रोहित ने टी20 में शानदार प्रदर्शन किया था और वह अपनी इस फार्म को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे। वनडे प्रारूप में धवन को अपनी पारी का संवारने का समय मिल जाता है और ऐसे में दिल्ली का यह अनुभवी बल्लेबाज मंगलवार को फार्म में वापसी करने की कोशिश करेगा। जहां तक भारतीय टीम का सवाल है तो वह इस साल के आखिर में होने वाले टी20 विश्व कप की अपनी तैयारियों को ही आगे बढ़ाएगी क्योंकि इस वर्ष 50 ओवरों के प्रारूप में कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं खेला जाना है।

    कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के खिलाफ टी20 श्रृंखला में अच्छी पारियां खेली और वनडे में भी वह बड़ी पारियां खेलने की कोशिश करेंगे क्योंकि उन्होंने वनडे में अपना आखिरी और 43वां शतक अगस्त 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में लगाया था। कोहली शतक का इंतजार यहां समाप्त करना चाहेंगे। केएल राहुल और ऋषभ पंत दोनों के अंतिम एकादश में जगह बनाने की संभावना है। राहुल को हालांकि शीर्ष क्रम में नहीं बल्कि मध्यक्रम में उतारा जाएगा।

    वह पिछले साल से मध्यक्रम में ही खेल रहे हैं। पंत को विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी के साथ हार्दिक पंड्या के साथ निचले मध्यक्रम में अहम भूमिका निभानी होगी। ऐसी स्थिति में अंतिम एकादश में एक जगह के लिये मुंबई के श्रेयस अय्यर और सूर्यकुमार यादव के बीच प्रतिस्पर्धा होगी। सूर्यकुमार ने टी20 श्रृंखला में अपने करारे शॉट से प्रभावित किया था, लेकिन अय्यर पिछले कुछ समय से मध्यक्रम में अच्छी भूमिका निभा रहे हैं।

    टी20 श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन करने वाले भुवनेश्वर कुमार गेंदबाजी विभाग की अगुवाई करेंगे। उनके साथ शार्दुल ठाकुर को नयी गेंद का जिम्मा दिया जा सकता है। उन्होंने टी20 श्रृंखला में आठ विकेट लिये थे। मोहम्मद सिराज और प्रसिद्ध कृष्णा भी टीम में हैं। कप्तान कोहली पहले ही कृष्णा की प्रशंसा कर चुके हैं। विजय हजारे ट्राफी में उन्होंने सात मैचों में 14 विकेट लिये थे। स्पिन विभाग में युजवेंद्र चहल और वाशिंगटन सुंदर को क्रुणाल पंड्या और कुलदीप यादव पर प्राथमिकता मिल सकती है।

    हार्दिक पंड्या अब फिट हैं और पांचवें गेंदबाज की भूमिका निभाएंगे लेकिन देखना यह होगा कि वह कितने ओवर कर सकते हैं। इंग्लैंड भी जीत के साथ दौरे का अंत करने के लिये बेताब होगा क्योंकि उसने अच्छी शुरुआत करने के बावजूद टेस्ट श्रृंखला 1-3 से और टी20 श्रृंखला 2-3 से गंवायी थी। इंग्लैंड के कप्तान मोर्गन, जोस बटलर, जैसन रॉय और आलराउंडर बेन स्टोक्स की फार्म काफी मायने रखेगी। उसके इन चारों प्रमुख बल्लेबाजों को निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है।

    इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड ने अपनी तेजी से भारतीय बल्लेबाजों को परेशान किया था और जोफ्रा आर्चर के चोटिल होने के बाद क्रिस जोर्डन और युवा सैम करेन के साथ उनकी जिम्मेदारी बढ़ जाती है। मोईन अली और आदिल राशिद की स्पिन जोड़ी भारतीय बल्लेबाजों को खास परेशान नहीं कर पायी और यह देखना दिलचस्प होगा कि वनडे में उनकी रणनीति क्या होती है। मोईन टीम के लिये पिंच हिटर की भूमिका भी निभा सकते हैं। भारत में कोविड-19 के मामले फिर से बढ़ने के कारण यह मैच खाली स्टेडियम में खेला जाएगा।

    टीमें इस प्रकार हैं :

    भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, शुभमन गिल, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), केएल राहुल (विकेट कीपर), युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, क्रुणाल पंड्या, वाशिंगटन सुंदर, टी नटराजन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा, शार्दुल ठाकुर में से।

    इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, सैम कुरेन, टॉम कुरेन, लियाम लिविंगस्टोन, मैट पार्किंसन, आदिल राशिद, जैसन रॉय, बेन स्टोक्स, रीस टॉपले, मार्क वुड, जैक बॉल, क्रिस जॉर्डन, डाविड मलान में से।

    मैच दोपहर बाद एक बजकर 30 मिनट से शुरू होगा।