18,000 children infected in Nashik, first infected on 28 March 2020
प्रतीकात्मक तस्वीर

    नयी दिल्ली. दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग (डीसीपीसीआर) की ओर से कराए गए सर्वेक्षण (DCPCR Survey) में कहा गया है कि कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) के कारण राष्ट्रीय राजधानी में 2000 से अधिक बच्चों ने अपने माता-पिता में से किसी एक या फिर दोनों को खो दिया।

    इस सर्वेक्षण की रिपोर्ट में कहा गया है कि कुल 651 बच्चों ने अपनी मां को खो दिया वहीं 1,311 बच्चों ने अपने पिता को खो दिया। दिल्ली सरकार ने ऐसे बच्चों को हर महीने 2500 रुपये की मदद करने की घोषणा की है।

    डीसीपीसीआर ने इस तरह के मामलों की रिपोर्ट करने और बाल अधिकारों को लेकर सूचना मुहैया कराने के मकसद से हेल्पलाइन नंबर 9311551393 की शुरुआत की है। यह हेल्पलाइन नंबर प्रतिदिन काम करेगा।

    आयोग ने एक बयान में कहा कि उसने उन बच्चों की पहचान के लिए इस हेल्पलाइन का इस्तेमाल किया जिन्होंने कोविड के कारण अपने माता-पिता या फिर दोनों में से किसी एक को खो दिया।

    इस सर्वेक्षण के अनुसार, 2,029 बच्चों ने अपने पिता-पिता में से किसी एक को या फिर दोनों को खोया है। 67 बच्चों ने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया। (एजेंसी)