Railway Segregation Bins_ 59 suspects of covid-19 were recruited in UP Mau from 20 June

नई दिल्ली. कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को पृथकवास में रखने के लिए रेलवे द्वारा तैयार डिब्बों का इस्तेमाल अब शुरू हो गया है। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि 20 जून से उत्तरप्रदेश के मऊ स्टेशन में, ऐसे डिब्बों में कोरोना वायरस संक्रमण के 59 संदिग्ध मरीजों को भर्ती किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि आठ मरीजों को छुट्टी दी जा चुकी है और 51 संदिग्ध मरीज पृथकवास वार्ड के तौर पर तैयार इन विशेष गैर वातानुकूलित बोगियों में भर्ती हैं।

अधिकारियों ने बताया कि 20 जून को रेल डिब्बों में बनाए गए पृथकवास वार्ड में 42 मरीजों को जबकि 21 जून को 17 मरीजों को भर्ती किया गया। उन्होंने बताया कि अभी तक रेलवे ने पांच राज्यों -दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश- में कोविड मरीजों के देखभाल के लिए तैयार 960 डिब्बों को स्थापित किया है। इन डिब्बों को ‘‘कोविड केयर” नाम दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि उत्तर प्रदेश के 23 स्थानों पर कोविड मरीजों के लिए 372 डिब्बों को स्थापित किया गया है। इन स्थानों में लखनऊ, वाराणसी, पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन, आगरा, भदोही, कानपुर, सहारनपुर, फैजाबाद, मिर्जापुर, झांसी, झांसी कार्यशाला, नखा जंगल, सूबेदारगंज, गोंडा, भटनी, नौतनवा, बहराइच, मंडुवाडीह, फर्रुखाबाद, वाराणसी सिटी, मऊ, बरेली सिटी और कासगंज शामिल है।(एजेंसी)