Ramesh Pokhriyal Nishank

नई दिल्ली: केंद्र सरकार (Central Government) ने सीबीएसई परीक्षा (CBSE Exam) को लेकर बड़ा निर्णय लिया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक (Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank) ने कहा, “जनवरी या फरवरी में कोई बोर्ड परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी। परीक्षाओं के संचालन पर एक निर्णय बाद में लिया जाएगा।” उन्होंने मंगलवार को वर्चुअल माध्यम से शिक्षकों से बात करते हुए यह ऐलान किया।

कम सिलेबस के अनुसार होगी परीक्षा 

ऑनलाइन माध्यम से शिक्षकों से बात करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा, “इस वर्ष 10वीं और 12ववीं की परीक्षा का आयोजन घटे हुए तीस प्रतिशत कम सिलेबस के अनुसार होगा। परीक्षा में 33 प्रतिशत अंक का आतंरिक विकल्प दिया गया है। बहुत सारे राज्यों ने इसे लागू कर दिया है और कई इसे लागू करने की कतार में हैं।”

ऑनलाइन परीक्षा लेना संभव नहीं 

शिक्षा मंत्री ने कहा, “इंटरनल मार्क देने के लिए हमने कमिटी का गठन किया गया है कोरोना महामारी की वजह से इस वर्ष परीक्षा लेने में देरी हुई” ऑनलाइन परीक्षा लेने के सवाल पर उन्होंने कहा, “सीबीएसई की बहुत से स्कूल ग्रामीण इलाकों में हैं, इसलिए ऑनलाइन परीक्षा लेना संभव नहीं” 

योद्धाओं की तरह शिक्षकों ने पढ़ाया 

रमेश पोखरियाल ने कहा, “देश में ऑनलाइन शिक्षा देने में कोई कसर नहीं छोड़ा है कोरोना के इस काल में शिक्षकों ने योद्धाओं की तरह पढ़ाया हैहमने इस साल जेईई-आईआईटी की एग्जाम ली है, जो कोरोना काल में आयोजित सबसे बड़ी परीक्षा थी।”