Representational Pic
Representational Pic

  • नितदिन करोडों का अवैध व्यवहार, आरमोरी से चलते है, सूत्र

गडचिरोली. विदेश में शुरू इंडियन प्रिमीयर लिग (आईपीएल) का खुमार दिन ब दिन क्रिकेट शौकिनों में बढता जा रहा है। इस प्रतियोगिता की रोमांचकता के साथ सट्टे का रोमांच भी उसी तुलना में बढ रहा है। आईपीएल के माध्यम से बुकीं के नेटवर्क शहरी, ग्रामीण क्षेत्र के साथ ही दूसरे जिले में भी फैले है। इस सट्टे से जिले में प्रतिदिन करोडों का अवैध व्यवहार चल रहा है। आमरोरी शहर से इस सट्टे की सूत्र चलने के बावजूद पुलिस को इस बात का अंदेशा भी नहीं होने से आश्चर्य व्यक्त किया जा रहा है। आरमोरी से बुकी के मुख्य सूत्रधार ने सभी और सट्टे के जाल बिछाए है, ऐसे में इस अवैध व्यवसाय का पर्दाफाश पुलिस करेंगी क्या, इस प्रश्न की ओर सभी की निगाहें लगी है।

दुबई के अबुधाबी में 19 सितंबर से आईपीएल क्रिकेट प्रिमीयर लीग शुरू हुई है। बीते माह से क्रिकेट शौकीन इसका आनंद उठा रहे है। दिन ब दिन क्रिकेट का रोमांच बढ रहा है। दूसरी ओर सट्टेबाज भी उसी प्रयास से स्पर्धा के एक एक पल का दांव खेल रहे है। संपूर्ण जिले में आईपीएल सट्टे का ज्वर चढा है। ‘मोबाइल टू मोबाइल’ शुरू होनेवाले इस सट्टे में नित करोडों का अवैध व्यवहार हो रहा है। इस सट्टे के सभी सूत्र शैक्षणिक व राजनितिक दृष्टि से महत्वपूर्ण केंद्र होनेवाले आरमोरी शहर से चलाएं जा रहे है।

उक्त सूत्रधार ने बुकी के जाल सर्वत्र फैलाएं होकर अकेले आरमोरी शहर में 100 के करीब बुकी होने की जानकारी सुत्रों द्वारा मिली है। जिससे जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में इस सट्टे का रैकेट कहां तक फैला होगा, इसका अनुमान लगाया जा सकता है। बुकीं के माध्यम से ऑनलाईन तथा ऑफलाईन व्यवहार हो रहे है, ऐसे में सट्टे के मुख्य सूत्रधार की गुप्तता विशेष है। सट्टा लगानेवालों की ओर से सभी व्यवहार मोबाईल पर होते है, मात्र प्रत्यक्ष पैसा इकट्टा करते समय वह एक पैसा भी स्वयं के खाते में या सीधे नहीं लेने से अबतक नहीं लेने से वह पुलिस के आंखों से छुपा है। 

आईपीएल सट्टा लेनेवाला वह बेताज बादशाह शहर के एक मुख्य जगह से सट्टे के सूत्र चलाता आया है। इस सट्टे में धनिक, कर्मचारी, व्यापारी आदि युवां भी इसमें लिप्त है। नित इस सट्टे के माध्यम से करोडों का व्यवहार हो रहा है। मात्र पुलिस इस संदर्भ में अनभिज्ञ होने से आईपीएल पुलिस पुलिस मजाक उडाने के चित्र निर्माण हुए है। जिससे क्या अब पुलिस प्रशासन इस सट्टे के अवैध व्यवसाय का पर्दाफाश करने विशेष प्रयास करेगी क्या, ऐसा सवाल जागृत नागरिकों द्वारा पुछा जा रहा है। 

कब होगा रैकेट का पर्दाफाश 

हर वर्ष आईपीएल आयोजित होते है। जिससे उक्त बुकी इसी कालावधि में सक्रिय होते है। अपने एजंट के मार्फत वह सट्टे में करोडों का व्यवहार करते आया है। इसके लिए उसके फैले नेटवर्क महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है। जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के साथ ही दूसरे जिले में भी उसने सट्टे के जाल फैलाने की जानकारी है। जिससे इसमें बडा रैकेट लिप्त होकर इस रैकेट का पर्दाफाश करने में पुलिस प्रशासन को सफलता मिलेगी क्या ? यह उत्सुकता का विषय बना हुआ है।

सट्टेमय नगर का वह ‘सेवक’

आईपीएल सट्टे में मुख्य सूत्रधार की भूमिका निभानेवाला वह बुकी राजनीतिक क्षेत्र में भी सक्रिय होने की जानकारी है। वह राज्य के सत्ताधारी एक बडे पार्टी से जुडा होकर आरमोरी नगर में सेवक की भी भूमिका निभा रहा है। उसके विभिन्न राजनीतिक दल के नेताओं से गहरे संबंध होने से उसपर राजनीतिक शह होने के कारण ही वह आईपीएल सट्टे के अवैध व्यवसाय में विगत अनेक वर्षो से सक्रिय होने के बावजूद कार्रवाई शून्य होने की बात कहीं जा रही है।