Roof Fallen
File Photo

    गोंदिया (का). नगर परिषद की श्रीनगर स्थित मालवीय शाला की इमारत की छत ढह गई है. यह घटना मध्यरात्रि में होने से बड़ी दुर्घटना टल गई. बताया गया कि नप द्वारा संचालित श्रीनगर में मालवीय शाला है. जहां कक्षा पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थियों को पढाने की व्यवस्था की गई है. लेकिन नप की अधिकांश इमारतें जीर्ण अवस्था में पहुंच गई हैं. मालवीय शाला की भी हालत इसी तरह की है. इस शाला परिसर में क्षेत्र के नागरिक आवागमन कर बैठते हैं.

    मध्यरात्रि को अचानक शाला की छत का स्लैब गिर गया जिसमें कोई जनहानि नहीं हुई, लेकिन यह घटना दिन में घटित होती तो बड़ी दुर्घटना होने की आशंका थी क्योंकि इस शाला में दिन में नागरिक बैठते हैं. वहीं कर्मचारियों का भी आना जाना रहता है. इस घटना को देखते हुए परिसर के नागरिकों ने मांग की है कि इमारत के जीर्ण हिस्से को तत्काल गिराया जाए. ताकि दोबारा इस तरह की घटना घटित न हो.

    पहले कार्यालय की छत भी गिर चुकी है

    नप मुख्याध्यापक दिलीप रहांगडाले के अनुसार कक्षा पहली से चौथी तक विद्यार्थियों को पढ़ाने की व्यवस्था शाला में है. इस वर्ष 40 बच्चों ने प्रवेश लिया है. वहीं इसी इमारत परिसर में कॉन्वेंट के भी 45 बच्चे आते हैं. इसके पूर्व भी कार्यालय की छत गिरी चुकी है. इमारत जगह-जगह जीर्ण हो चुकी है. जिसकी जानकारी नप प्रशासन को दी गई है. इसी इमारत में प्रतिदिन स्कूल के कर्मचारी कामकाज करते हैं, जो जोखिम भरा है.