कम मात्रा में गूंथें आटा वरना होगा सेहत को नुकसान

-सीमा कुमारी

आज की भाग दौड़ भरी लाइफस्टाइल में महिलाओं को दोहरी जिंदगी जीनी पड़ती है। पहली परिवार के लिए और दूसरी वर्किंग वुमेन के तौर पर। इन दोनों कार्यों को आज महिलाएं बखूबी करती हैं। पर इन सब को करते वक्त कुछ चीजें ऐसे हैं जिसे नहीं करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं वो कौन सी चीजें हैं? खासतौर पर वर्किंग वुमेन सब्जियों को और आटे के पहले से ही ज्यादा मात्रा में तैयार कर रखती है। ताकि उनका समय बच जाने के साथ बार-बार एक ही काम करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। मगर यहां बात आटा गूंथने की करें तो शास्त्रों के अनुसार, इसे उतनी मात्रा में ही गूंथना चाहिए, जितनी जरूरत है। मगर इसे पहले से ही गूंथ कर रखने से सेहत को तो नुकसान होगा। इसके अलावा घर में नेगेटिविटी बढ़ने का खतरा रहता है। तो चलिए जानते हैं आटा गूंथने के बारे में…

  • गूंथे हुए आटे को घर पर रखना और दोबारा प्रयोग करना अशुभ होता है। इससे घर में नेगेटिविटी बढ़ती है। ऐसे में घर का माहौल अशांत व लड़ाई- झगड़ों वाला रहता है। इसलिए महिलाओं को ऐसा करने से बचना चाहिए|
  • घर पर आटा गूंथ के रखना पिंड के बराबर माना जाता है। ऐसे में इस आटे को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। साथ ही इसे भूल से भी फ्रिज में नहीं रखना चाहिए। शास्त्रों के मुताबिक, इस आटे को पिंड की तरह मानने से यह भूखी आत्माओं की भूख शांत करता है।
  • बचे हुए आटे को फ्रिज में रखने से बचें।
  • आटे को गूंथने के बाद उसपर तीन अंगुलियों के निशान बनाएं। ये निशान इस बात का प्रतीक होते है कि यह आटा किसी मृतक के लिए नहीं बल्कि इंसानों के लिए है।
  • ऐेसे आटे की रोटी खाने से सेहत को नुकसान होने के साथ व्यक्ति के अंदर आलस भरा रहता है। उसपर नेगेटिविटी बढ़ने के साथ मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।