Arvind Kejriwal

    नयी दिल्ली. कोरोना (Corona) की दूसरी लहर से जहाँ देश में संक्रमण के आंकड़े बढ़ गए हैं। वहीं अब इसके कहर से दिल्ली (Delhi Corona) भी हैरान-परेशान है। देश की राजधानी में अब अस्पतालों में ऑक्सीजन-दवाओं की कमी के बीच यहाँ संक्रमण दर 30% तक पहुंच गई है। अगर आंकड़ों कि मानें तो अन्य राज्यों की अपेक्षा  दिल्लीवाले सबसे तेज गति से कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। 

    आज इसी भयंकर और खतरनाक मुद्दे पर  मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejeriwal), उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) और मुख्य सचिव विजय देव की एक अहम बैठक होने वाली है। इस बैठक में यह तीनों, दिल्ली  शहर में कोरोना वायरस की स्थिति पर चर्चा करेंगे। साथ ही इस मीटिंग में राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन लगाने पर भी एक बड़ा और अहम् विचार भी हो सकता है।

    विदित हो कि बीते गुरुवार को दिल्ली CMकेजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक में शहर के कोरोना संक्रमण के हालातों  पर हुई चर्चा के बाद वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा की थी। इस वीकेंड कर्फ्यू के दौरान मॉल, स्पा, जिम, ऑडिटोरियम आदि सब बंद रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा अब वहां सिनेमा हॉल 30% क्षमता के साथ ही चल सकेंगे। 

    गौरतलब है कि बीते रविवार को राजधानी दिल्ली में 25462 नए संक्रमित मिले हैं। बात दें की यह एक दिन में सामने आई अबतक की सबसे ज्यादा संख्या है। वहीं इस कठिन समय में 161 लोगों की मौत हो गई है। एक चिंता का यह भी विषय है कि अब दिल्ली में कोरोना संक्रामकता की दर बढ़कर 29।74% हो गई है। फिलहाल राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 74,941 पर पहुंच गई है। इससे पहले बीते शनिवार को 24,375 नए मरीज मिले थे।