FRTWA will not be taking part in Bharat Band, president said - no power to bear more losses

मुंबई: किसान आंदोलन (Farmers Protests) के समर्थन में किए गए 8 दिसंबर के देश भर में भारत बंद (Bharat Band) को लेकर फेडरेशन ऑफ़ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर असोसिएशन (FRTWA) ने बंद के समर्थन से इंकार कर दिया है।

अपने बयान में FRTWA के प्रेजिडेंट ने कहा है कि, “FRTWA ने किसी बंद का एलान नहीं किया है। हम किसी भ्ही तरह के बंद कको समर्थन नहीं दे रहे हैं क्यूंकि फिलहाल हम और ज़्यादा बिज़नेस में नुक्सान नहीं झेल सकते हैं। किसान आंदोलन को लेकर सभी राजनितिक पार्टियों चिंतित हैं लेकिन मौजूदा हाल में मुंबई और महाराष्ट्र के रिटेलर्स बंद कर और बिज़नेस में नुक्सान झेलने की इस्थिति में नहीं हैं इसलिए हम इस बंद का समर्थन नहीं कर रहे हैं।  

बता दें कि, केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून का पूरे देश में विरोध किया जा रहा है। देश भर के किसानों ने इसके खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया है। इसी बीच, इस बंद में महाराष्ट्र राज्य के सभी APMC मार्कीट्स भी हिस्सा ले रहे हैं।इसलिए, 8 दिसंबर को सभी बाजारों को बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

दरअसल, कृषि कानून (Agriculture Law) के विरोध में किसान लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों के अलग-अलग संघटनों की मांग है कि कृषि कानून में या तो उनके मुताबिक बदलाव किया जाए या फिर इस कानून को केंद्र सरकार वापस ले।