प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी (Photo Credits-ANI Twitter)
प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: महाराष्ट्र (Maharashtra), राजस्थान (Rajasthan), दिल्ली (Delhi) सहित देश के कुछ राज्यों में कोरोना (Coronavirus Pandemic) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोविड-19 (COVID-19) से बढ़ते मरीजों की संख्या ने केंद्र सहित राज्य सरकारों की चिंता बढ़ा रखी है। देश में कोरोना से हालात बदतर नजर आ रहे हैं। अस्पताल पूरी तरह से फुल हैं जबकि आईसीयू बेड्स (ICU Beds) और ऑक्सीजन की किल्लत हो रही है। साथ ही रोजाना करीब ढाई लाख मामले देश में कोरोना के सामने आ रहे हैं। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए भारत में कई राज्यों ने लॉकडाउन सहित कई तरह की पाबंदियां लगाई हैं। जिसके चलते प्रवासी मजदूरों का कई राज्यों से पलायन जारी है। 

    बता दें कि पिछले साल लगाए गए लॉकडाउन के चलते जिस प्रकार प्रवासी मजदूरों को दिक्कतें झेलनी पड़ी थी उसके कारण इस बार कोरोना तांडव के बीच जिस तरह से कई राज्यों ने लॉकडाउन सहित कई प्रतिबंध लगाए हैं उसके कारण मजदूरों के मन में कई सवाल पैदा हो गया है। उनके मन में खौफ है कि अगर फिर तालाबंदी का फैसला सरकार करती है तो उन्हें पिछली बार के मुकाबले इस बार काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। 

    दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल की तस्वीरें-

    ज्ञात हो कि महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान सहित कई राज्यों से ऐसी तस्वीरें सामने आयी हैं जहां लाखों की संख्या में प्रवासी मजदुर पलायन कर रहे हैं। वैसे दिल्ली में एक सप्ताह का लॉकडाउन सरकार ने लगाया हुआ है। सीएम अरविंद केजरीवाल के इस ऐलान के बाद आनंद विहार बस अड्डे, राजधानी के रेलवे स्टेशनों पर भारी भीड़ जुटनी शुरू हो गई है। लाखों की संख्या में ये मजदुर अपने गृह राज्य लौट रहे हैं।

    वहीं राजस्थान में भी गहलोत सरकार ने 15 दिनों के मिनी लॉकडाउन का ऐलान किया है। जिसके चलते राजस्थान से भी प्रवासी मजदूरों का पलायन लगातार जारी है। हालांकि सरकार की पूरी कोशिश है कि मजदूरों के पलायन को रोका जा सके।  

    कोरोना के चलते महाराष्ट्र में भी हालात ठीक नहीं है। पिछले 24 घंटे की बात करें तो यहां कोरोना के 57 हजार 924 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 52 हजार से अधिक लोग इलाज के दौरान ठीक हुए हैं।  साथ ही 351 लोगों की मौत कोविड के कारण हुई है। महाराष्ट्र में भी सरकार ने कई तरह की पाबंदियां लगाई हुई हैं जिसके चलते मुंबई, नागपुर, नासिक, पुणे, पालघर. ठाणे से पिछले कई दिनों से प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है। मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस से कई तस्वीरें सामने आयी है जहां बड़ी तादात में प्रवासी मजदुर अपने गृह राज्य जाने के लिए ट्रेन पकड़ने के लिए पहुंचे हैं।