nitin gadkari

नयी दिल्ली. जहाँ एक तरफ देश का किसान विवादस्पद ‘कृषि कानूनों’ (Farm Laws) को लेकर मोदी सरकार (Narendra Modi) से लड़ रहा है। वहीं केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) के अनुसार अब जल्द ही गोबर से बने ‘वैदिक पेंट’ (Vedic Paint) की शुरुआत की जाएगी। इतना ही नहीं उनके अनुमान के अनुसार ‘वैदिक पेंट’ पशुधन किसानों (Farmers) के लिए प्रति वर्ष 55,000 रुपये की अतिरिक्त आय का सहारा भी बन सकेगा।

दरअसल बीते गुरुवार को केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी ने बीते गुरुवार को बताया कि जल्द ही गोबर से बने ‘वैदिक पेंट’ की शुरुआत की जाएगी। गडकरी के अनुसार यह ‘वैदिक पेंट’ डिस्टेंपर और इमल्शन रूपों में आएगा और केवल चार घंटों में सूख जाएगा। यही नहीं यह पेंट पर्यावरण के अनुकूल इको फ्रेंडली, नॅान टौक्सिक, एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और वॅाशेबल होगा। इसके साथ ही उन्होंने यह अनुमान भी लगाया कि ‘वैदिक पेंट’ पशुधन किसानों के लिए प्रति वर्ष 55,000 रुपये की अतिरिक्त आय का सहारा बनने वाला है।इस बाबत केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘ग्रामीण इकोनॉमी को बल मिले और किसानों को अतिरिक्त आमदनी हो इसलिए खादी और ग्रामोद्योग आयोग के माध्यम से हम जल्द ही गाय के गोबर से बना ‘वैदिक पेन्ट’ लॅान्च करने वाले हैं।

गौरतलब है कि ‘कृषि कानूनों’ को लेकर केंद्रीय मंत्री गडकरी ने मोदी सरकार का बचाव करते हुए कहा था कि, उनकी सरकार कभी किसान विरोधी कोई भी नीति नहीं अपनाएगी। उन्होंने कहा था कि की किसान संगठन, सरकार के साथ बैठकर इस मामले का कोई हल निकाले। एक प्रश्न के उत्तर में उनका यह भी कहना था की, अगर जरुरत पड़ी और केंद्र सरकार उनको कहे तो वे स्वयं भी किसानों से बात करने सामने आ सकते हैं।