trivendra singh rawat

    देहरादून: उत्तराखंड (Uttarakahnd) के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। दोपहर चार बजे राजभवन में जाकर उन्होंने राज्यपाल बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) को अपना इस्तीफा सौंपा। इस्तीफा देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, “पार्टी ने तय किया है अब किसी और को मौका दिया जाए।”

    पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “पार्टी ने मुझे चार साल तक इस राज्य की सेवा करने का सुनहरा अवसर दिया। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे ऐसा मौका मिलेगा। पार्टी ने अब फैसला किया है कि सीएम के रूप में सेवा करने का अवसर अब किसी और को दिया जाना चाहिए।”

    कल विधायक दल की बैठक 

    रावत ने कहा, “मैंने आज राज्यपाल को अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया है। अगले मुख्यमंत्री के लिए भाजपा विधायक दल की बैठक कल सुबह 10 बजे पार्टी कार्यालय में होनी है।” वहीं मुख्यमंत्री के पद से क्यों हटाया गया इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि, “इसके लिए आप को केंद्रीय नेतृत्व से बात करनी पड़ेगी।”

    ज्ञात हो कि, त्रिवेंद्र सिंह के खिलाफ भाजपा विधायकों और मंत्रियों में बेहद नाराजगी थी। सभी उनके एक तरफ़ा काम करने से बेहद खफा थे। इसी को लेकर पिछले दिनों 18-19 विधायक केंद्रीय नेतृत्व से मिलने दिल्ली पहुंच गए थे। जिसके बाद से ही रावत को मुख्यमंत्री पद से हटाने की सुगबुगाहट शुरू हो गई थी। 

    कल केंद्रीय नेतृत्व ने किया था तलब

    विधायकों की शिकायत के बाद केंद्रीय नेतृत्व ने रावत को सोमवार को दिल्ली तलब किया था। जहां उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा से मुलाकात की थी। वहीं इसके पहले राज्य के प्रभारी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह सहित कई बड़े नेताओं ने देहरादून स्थित मुख्यमंत्री आवास पर बैठक की थी। 

    कल मिलेगा नया मुख्यमंत्री 

    नए मुख्यमंत्री के चयन के लिए कल बुधवार को सुबह 10 भजे भाजपा विधायकों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में नए मुख्यमंत्री का चयन किया जाएगा। इस बैठक में भाग लेने के प्रदेश प्रभारी रमन सिंह रायपुर से देहरादून के लिए निकल चुके हैं।

    विधानसभा में सीटों का गणित 

    विधानसभा की 70 सदस्यीय सीट में से भारतीय जनता पार्टी के पास  56 सीट है। वहीं मुख्यविपक्षी कांग्रेस के पास 11,  दो निर्दलीय और एक सीट खाली है।