Urmila explained the reason for joining Shiv Sena, said- I still respect Sonia ji

मुंबई: अभिनेत्री से नेता बनीं उर्मिला मातोंडकर (Urmila Mathondar) ने मंगलवार को अपने नए सियासी सफर की शुरुआत कर दी। उर्मिला मातोंडकर ने कांग्रेस को अलविदा कह कर शिवसेना (Shivsena) प्रवेश कर लिया। शिवसेना प्रमुख (Shivsena Chief) और महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की मौजूदगी में उर्मिला मातोंडकर शिवसेना में शामिल हुईं। शिवसेना के साथ औपचारिक रूप से जुड़ने के बाद उर्मिला ने शिवसेना जॉइन करने की वजह भी बताई।  

राहुल, सोनिया जी की आज भी इज्जत करती हूं- उर्मिला 

उर्मिला ने कहा, कांग्रेस में जो मैंने कैम्पेन किया था तो जिस तरह से कुछ चीज़े होनी चाहिए थी उस तरह से नहीं हुई। आज भी मुझे कांग्रेस से कोई भी प्रॉब्लम नहीं है। कुछ लोग पार्टी में रह कर पार्टी की बुराइयां करते है। विधान सभा के चुनाव के दौरान मुझ पर आरोप लगे लेकिन मैंने कभी पार्टी के खिलाफ कुछ भी नेगेटिव नहीं बोला। मैं आज भी राहुल, सोनिया जी की इज्जत करती हूं।

शिवसेना में प्रवेश करने की यह बताई वजह

उर्मिला ने कहा जिस तरह से पिछले 10 महिनी में बहोत ही कठिन समय मुम्बई और महारास्ट्रा के लिए रही।,फिर चाहे वो कोविड हो,या नैसर्गिक आपत्ति जी हो,उस सब को लेकर उद्धव ठाकरे जी ने एक परिवार के नाते उद्धव जी ने बहोत अच्छे से सम्भाला है।जिससे मैं बहोत प्रभावित हु और ऐसे नेतृत्व में मैं ज़रूर काम करना चाहूंगी। 

किसी के खिलाफ नहीं, महाराष्ट्र के लोगों के लिए हमेशा बात की- उर्मिला 

उर्मिला ने कहा कि उनका मकसद समाज सेवा करना है। उर्मिला ने शिवसेना की बात करते हुए कहा कि पार्टी ने हमेश से ही महिलाओं के लिए मजबूती से काम किया है और अब शिवसेना के साथ जुड़ने के बाद वो भी महिलाओं को आगे बढ़ाने का काम करेंगी। उर्मिला ने कहा कि उन्होंने हमेशा से ही महाराष्ट्र के लोगों के लिए बात की है और वो आगे भी करतीं रहेंगी।

बता दें कि, वैसे उर्मिला इससे पहले साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस (Congress) के टिकट पर उत्तर मुंबई से चुनाव लड़ा था लेकिन उन्हें बीजेपी के गोपाल शेट्टी (Gopal Shetty) ने हरा दिया था।

उर्मिला को विधान परिषद भेजने की तैयारी   

शिवसेना में शामिल होने के बाद उर्मिला को विधान परिषद में भेजा जा सकता है। उर्मिला मातोंडकर अपने इस नए सफर की शुरुआत करते हुए मुंबई में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री पर पहुंचीं जहां उन्होंने ने सीएम ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना की सदस्यता ली। उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे ने उन्हें शिव बंधन बांधकर पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस मौके पर उद्धव ठाकरे के पार्टी के कई बड़े नेता इस मौके पर मौजूद थे।