रजनीकांत को सम्मानित करते उपराष्ट्रपति (Photo Credits-ANI)
रजनीकांत को सम्मानित करते उपराष्ट्रपति (Photo Credits-ANI)

    नई दिल्ली: 67वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड (67th National Film Awards) आयोजन शुरू हो चुका है। इस कार्यक्रम में देश के उपराष्ट्रपति एम. वेकैया नायडू ने सुपरस्टार रजनीकांत (Superstar Rajinikanth) को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड (Dadasaheb Phalke Award) दिया। इस अवॉर्ड को लेने के बाद रजनीकांत ने कहा कि मुझे इस पुरस्कार से सम्मानित करने के लिए मैं भारत सरकार का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं। मैं ये पुरस्कार अपने गुरू के. बालचंदर, अपने भाई सत्यनारायण राव और अपने ट्रांसपोर्ट ड्राइवर दोस्त राजबहादुर को समर्पित करता हूं। साथ ही देश के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और अनुराग ठाकुर ने उन्हें बधाई दी है। 

    रजनीकांत को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित करने के बाद भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि आप दक्षिण भारत के प्रसिद्ध अभिनेताओं में से एक हैं। आप लाखों दिलों पर राज करते हैं और इनको किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। आपके अभिनय कौशल ने भारतीय फिल्म उद्योग को एक नया आयाम दिया है। 

    एम. वेंकैया नायडू और अनुराग ठाकुर ने रजनीकांत को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मनित किया।

    वहीं केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि रजनीकांत को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार जीतने पर बधाई देता हूं। उन्होंने सिनेमा जगत को 5 दशक दिए हैं। कोई कहेगा वह वेटरन हैं, कोई आइकोनिक कलाकार कहेगा। मैं कहता हूं कि इन 5 दशक ने उनको एक इंडिविजुअल से एक संस्था के रूप में बदला है।

    उन्होंने कहा कि दुनिया का कंटेंट अगर कहीं बन सकता है तो वह भारत है। फिल्म निर्माण, पोस्ट प्रोडक्शन, एनिमेशन, विज़ुअल, ग्राफिक्स आदि की संभावना देश के अंदर खड़ी होती है। ये हम पर निर्भर करता है कि हम उस काम को कैसे यहां ला सकते हैं। एक बहुत बड़ा अवसर हमारे सामने हैं।

    दूसरी तरफ हिंदी सिनेमा कैटेगरी में इस बार दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘छिछोरे’ को बेस्ट हिंदी फिल्म चुना गया है। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को भी दो फिल्मों के लिए बेस्ट एक्ट्रेस के अवॉर्ड से नवाजा गया है।