rajesh-bhushan
File Pic

    नई दिल्ली: देश में एक ओर जहां कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) ने अपना कहर मचाना शुरू कर दिया है। वहीं दूसरी तरफ इसको रोकने के लिए बड़े स्तर पर टीकाकरण अभियान (Vaccination Program) भी शुरू है। जिसके बदौलत देश की 72 प्रतिशत जनसँख्या को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की दोनों डोज लग गई है। इस बात की जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजीव भूषण (Health Secretary Rajesh Bhushan) ने आयोजित प्रेस वार्ता में दी। वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडु में बढ़ते मामलों पर मंत्रालय ने चिंता जताई है। 

    राजेश भूषण ने कहा, “एशिया 4 सप्ताह में वैश्विक योगदान में 7.9% से लगभग 18.4% की तीव्र वृद्धि दिखा रहा है। भारत में COVID19 मामलों में भी तेज उछाल देखा जा रहा है।”

    भूषण ने आगे कहा, “महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश ‘चिंता के राज्यों’ में से हैं। हमने इन राज्यों में केंद्रीय स्वास्थ्य दल भेजे हैं और स्थिति की लगातार समीक्षा कर रहे हैं।” उन्होंने कहा, “महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, पश्चिम बंगाल, यूपी, गुजरात, ओडिशा, दिल्ली और राजस्थान सक्रिय मामलों के मामले में शीर्ष 10 राज्यों में शामिल हैं।”

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, “20 जनवरी 2022 को 3,17,532 नए मामले, 380 मौतें और 19,24,051 सक्रिय मामले हैं। पूर्ण टीकाकरण वाले लोगों का अनुपात 72% है।” उन्होंने कहा, “देश में अब तक 15-18 आयु वर्ग के 52% बच्चों का टीकाकरण हो गया है।”

    टीके से मौतों में आई कमी 

    आईसीएमआर प्रमुख बलराम भार्गव ने कहा, “भारत में टीके फायदेमंद बने हुए हैं। टीकाकरण के कारण कोरोना से होने वाली मौतों में काफी कमी आई है। COVID19 के इस तीसरे उछाल में हम वर्तमान में गंभीर बीमारी और उच्च टीकाकरण के कारण होने वाली मौतों को नहीं देख रहे हैं।”