File Photo
File Photo

    नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शनिवार को दावा किया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ‘‘राजनीतिक मोतियाबिंद” से पीड़ित हैं और अपनी सरकार में कथित आबकारी और कक्षाओं के निर्माण घोटालों के बावजूद खुद को ईमानदारी का प्रमाण पत्र दे रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पूरा देश अब जानता है कि केजरीवाल एक ‘‘कट्टर बेईमान” हैं।

    आबकारी नीति मामले में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के आरोपपत्र में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का नाम नहीं होने पर केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि वह और आम आदमी पार्टी (आप) ‘कट्टर ईमानदार’ हैं। केजरीवाल ने यहां संवाददाता सम्मेलन में भाजपा से सवाल किया कि क्या वह भी अपने किसी नेता के बारे में ऐसा कह सकती है।

    भाटिया ने कहा, ‘‘केजरीवाल राजनीतिक मोतियाबिंद से पीड़ित हैं। कक्षाओं के निर्माण में घोटाला या आबकारी घोटाला या सत्येंद्र जैन का जेल में रहते हुए भी मंत्री पद पर बने रहना कोई बड़ी बात नहीं है।”

    उन्होंने कहा कि जिन जांच एजेंसियों को कभी “पिंजरे में बंद तोते” के रूप में बताया जाता था, वे भ्रष्टाचार के मामलों में कार्रवाई का फैसला करने के लिए स्वतंत्र है। सीबीआई ने शुक्रवार को दिल्ली आबकारी नीति मामले में सात आरोपियों के खिलाफ अपना पहला आरोपपत्र दाखिल किया, लेकिन प्राथमिकी में सिसोदिया का नाम नहीं है।  (एजेंसी)