assam
Pic : Twitter

    नई दिल्ली. जहाँ एक तरफ असम (Assam) में लगातार हो रही बारिश (Rain) से आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। वहीं अब यहां के दीमा हसाओ (Deema Hasao) में बारिश की वजह से 12 गांवों में भूस्खलन (Landslide) आने की खबर है। इसके साथ ही कई और क्षेत्रों में जलभराव और बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। वहीं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक, दीमा हसाओ में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश के कारण कई रिहायशी और वाणिज्यिक इमारतों को नुकसान पहुंचा है। 

    इसके साथ ही अधिकारियों की मुताबिक, बारिश की यह स्थिति असानी चक्रवात की वजह से बनी है। दीमा हसाओ के हाफलोंग में तो इसी भूस्खलन की वजह से एक महिला समेत 3 लोगों की मौत हो गई। कई और इलाकों में सड़कें बहने की घटनाएं कि भी खबरें सामने आई हैं।

    इस बाबत दीमा हसाओ की उपायुक्त नाज़रीन अहमद ने एडवाइजरी जारी कर लोगों को यात्रा से बचने को कहा है, क्योंकि भारी बारिश के कारण भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं। इससे सड़कों की हालत बहुत खराब है। इसके साथ ही NDRF ने बताया कि अब तक 6 जिलों- कछार, धेमाजी, होजई, कार्बी आंगलोंग पश्चिम, नगांव और कामरूप (मेट्रो) के 94 गांवों के कुल 24,681 लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

    बारिश के चलते रेल सेवाओं पर पड़ा असर

    वहीं लगातार बारिश और भूस्खलन के चलते पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे (NFR) के लुमडिंग-बदरपुर खंड में कई ट्रेन रद्द कर दी गई हैं। इस बाबत रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि भारी बारिश के और भूस्खलन के चलते लुमडिंग मंडल के लुमडिंग-बदरपुर पर्वतीय खंड के अनेक हिस्सों में जलभराव को देखते हुए कई ट्रेन रद्द अथवा आंशिक तौर पर भी रद्द कर दी गई हैं। इसके अलावा माईबांग और माहूर के बीच इस तरह के रेल मार्ग प्रभावित हुए हैं। यहां फिलहाल ट्रेनें बहुत देरी से चल रही है।