Cyclone Tauktae: strong winds and rains in Kerala leads to Water logging in many parts
File Photo

    नई दिल्ली. चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ (Cyclonic storm ‘Gulaab’) ने नॉर्थ आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) और साउथ ओडिशा (Odisha) के तटों को पार कर लिया है। इस बात की पुष्टि भारत मौसम विज्ञान विभाग ने की है। तूफान अपनी दिशा में आगे की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवात गुलाब अगले 6 घंटों के दौरान कमज़ोर पड़ जाएगा।

    गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान गुलाब के टकराने की प्रक्रिया शाम छह बजे आंध्र प्रदेश के कलिंगपट्टनम और ओडिशा के गोपालपुर के बीच शुरू हुई। चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ ने तटीय क्षेत्रों को छुआ। इसके बाद उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और आसपास के दक्षिण तटीय ओडिशा पर लैंडफॉल प्रक्रिया शुरू होने के बाद यह तूफान आगे अपनी दिशा में बढ़ गया।

    बंगाल की खाड़ी में उठे इस चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ की चपेट में आने से आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के दो मछुआरों की मौत हो गई है। जबकि एक अब भी लापता है। वहीं तीन अन्य मछुआरे सुरक्षित तट पर पहुंचने में सफल रहे। उन्होंने अक्कुपल्ली गांव से राज्य के मत्स्यपालन मंत्री एस अप्पाला राजू को फोन कर खुद के सुरक्षित होने की जानकारी दी। 

    यह सभी मछुआरे आज शाम समुद्र से लौटते समय मंडासा तट पर उनकी नाव से तेज लहरों के टकराने से समुद्र में गिर गए थे। मृतकों समेत सभी मछुआरे आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम के निवासी है।