आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों से टकराया चक्रवात, छह मुछुआरे लापता

    नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश और ओड़िशा के तटीय इलाकों में चक्रवाती तूफान रविवार शाम को शुरू हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम में चक्रवात गुलाब के कारण तेज हवाएं और भारी बारिश शुरू गई है। श्रीकाकुलम से बंगाल की खाड़ी में गए छह मुछआरों के रविवार शाम को लापता होने की जानकारी मिली है। 
     
    जानकारी के मुताबिक नाव में सवार छह मछुआरों में से एक ने गांव में फोन कर बताया कि नाव संतुलन खो चुकी है और पांच लोग समुद्र में लापता हो गए हैं। बाद में उसका फोन भी बंद आने लगा जिससे आशंका है कि वह भी समुद्र में डूब गया है। ग्रामीणों ने इस मामले को तत्काल राज्य के मत्स्यपालन मंत्री एस अप्पाला राजू के संज्ञान में लाया जिन्होंने तत्काल नौसेना के अधिकरियों को मछुआरों की तलाश और बचाव कार्य में मदद करने को कहा।   

    #CycloneGulab | Five fishermen from Andhra Pradesh’s Srikakulam fell in the sea after strong waves hit their boat off Mandasa coast while returning from the sea this evening. Police & other officials are trying to rescue them: Govindarao, Sub Inspector, Vajrapukotturu PS

    — ANI (@ANI) September 26, 2021

     
    जानकारी के अनुसार,  ओडिशा के भुवनेश्वर में चक्रवाती तूफान गुलाब के टकराने की प्रक्रिया रविवार शाम से शुरू हो गई है और यह करीब तीन घंटे तक जारी रह सकती है। इस प्रणाली ने आंध्र प्रदेश के कलिंगपट्टनम और ओडिशा के गोपालपुर के बीच के भूभाग को प्रभावित किया है। बता दें कि IMD द्वारा चक्रवात की चेतावनी और उत्तर आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तटीय इलाकों के लिए जारी की गईं हैं।
     

    #WATCH | Srikakulam in Andhra Pradesh witnessed strong winds and heavy rainfall due to Cyclone Gulab (Earlier visuals)

    As per IMD, the landfall process has commenced in coastal regions of Andhra Pradesh and Odisha pic.twitter.com/RKSLzv5cGs

    — ANI (@ANI) September 26, 2021

     
    PM मोदी ने ली CM जगनमोहन रेड्डी से स्थिति की जानकारी
    चक्रवात तूफान से उत्पन्न स्थिति की जानकारी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन  बातचीत की। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा  ‘हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया है। मैं सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।’