Dead body of Rifleman Shakir Manzoor Wagey who was missing since August 2020, found in Kulgam

    नई दिल्ली: करीब 13 महीने पहले गुमशुदा (Missing) हुए एक जवान (Soldier) का शव (Dead) मिला है। सेना (Army) की 162 बटालियन का राइफलमैन शाकिर मंजूर वागे (Rifleman Shakir Manzoor Wagey) अगस्त 2020 से लापता थे।

    बुधवार सुबह को मिला था। शव मिलने के बाद संदेह था कि, यह शव शाकिर मंजूर वागे का हो सकता है जिसके बाद उनके पिता मंजूर अहमद ने शव की पहचान कर ली। शव गांव के ही बीएसएनएल टावर के पास मिला था। इसके बाद शव की शिनाख्त करने और अन्य चिकित्सा औपचारिकताओं के लिए पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया था। 

    एक रिपोर्ट के मुताबिक, कुलगाम के मोहम्मदपुर में तिरपाल में लिपटा हुआ शव मिला था। आतंकवादियों ने पिछले साल दो अगस्त को उनका अपहरण कर लिया था। गौरतलब है कि, शाकिर मंजूर वागे पिछले वर्ष बकरीद के मौके पर अपने घर आए थे। जिसके बाद इस सेना के जवान का आतंकियों ने 2 अगस्त 2020 को देर शाम अपहरण कर लिया था। 

    इस दौरान आतंकियों ने टेरिटोरियल आर्मी में तैनात जवान की गाड़ी को भी फूंक दिया था। घटना के बाद उनके परिवार वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी। मामला सामने आने के बाद पूरे इलाके में बड़ा सर्च ऑपरेशन भी चलाया गया था लेकिन तब उनका पता नहीं चल पाया था।