Parliament Winter Session 2023
सदन Pic Source: Sansad Tv

Loading

नई दिल्ली: मणिपुर मामले (Manipur Case) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  (Narendra Modi) के बयान की मांग बरकरार है। I.N.D.I.A गठबंधन के सांसदों ने संसद के बाहर पीएम के बयान के मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही संसद में भी विरोध प्रदर्शन किया, जिस वजह से आज की लोकसभा की कार्यवाही 12बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

किसने क्या कहा?

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि नियम 198 के तहत हमारे पास अविश्वास प्रस्ताव है…इस नियम के अनुसार चर्चा (मणिपुर के संबंध में) तुरंत होनी चाहिए। सरकार नहीं चाहती कि सदन के अध्यक्ष उनसे सवाल पूछें…वे मुद्दों से बचने के लिए बहाने दे रहे हैं।

 कांग्रेस नेता मनिकम टैगोर ने कहा कि हम चाहते थे कि प्रधानमंत्री मणिपुर का दौरा करें… जो वह नहीं कर रहे हैं… I.N.D.I.A ब्लॉक ने हमारी बैठक में निर्णय लिया है कि मणिपुर के लिए एक सांसद प्रतिनिधिमंडल होगा। कल सांसदों का प्रतिनिधिमंडल रवाना होगा। आज शाम को उन नेताओं के नाम जारी किए जाएंगे…इस प्रतिनिधिमंडल का मकसद वहां (मणिपुर) के लोगों का दर्द समझना है।

 आम आदमी पार्टी सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष द्वारा अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार किए जाने के बाद संसद में कोई विधेयक पेश नहीं किए जाते हैं, लेकिन हम देख रहे हैं कि कई विधेयक संसद में पेश और पारित किए जाते हैं। मैं अध्यक्ष से अपील करता हूं कि अब लोकसभा में कोई विधायी कार्य नहीं होना चाहिए… I.N.D.I.A ब्लॉक का एक प्रतिनिधिमंडल मणिपुर के लोगों को समर्थन प्रदान करने और उनके साथ एकजुटता दिखाने की आशा के साथ मणिपुर का दौरा करेगा। मणिपुर वायरल वीडियो मामले को 85 दिनों के बाद सीबीआई को सौंपने के लिए अब बहुत देर हो चुकी है।