cia
Credit: Reuters

    नयी दिल्ली. एक बड़ी खबर के अनुसार अमेरिकी खुफिया विभाग (CIA) के फिलहाल एक जासूस में रहस्यमयी बीमारी के लक्षण दिख रहे हैं। दरअसल इस महीने CIA के डायरेक्टर विलियम बर्न्स (CIA Director William Burns) के साथ उक्त व्यक्ति भारत यात्रा पर आया था। भारत से अमेरिका पहुंचते ही उन्हें अचानक इलाज कराने की आवश्यकता पड़ी।

    जांच में बाद में पाया गया कि उनमे गंभीर बीमारी ‘हवाना सिंड्रोम’ (Havana Syndrome) के लक्षण मिले हैं। फिलहाल इस अधिकारी की पहचान से जुड़ी कोई भी जानकारी नहीं दी गई है लेकिन तबीयत बिगड़ने के बाद उनका इलाज किया गया। इस बात की जानकारी सोमवार को स्थानीय मीडिया ने दी है। बीते महीने भी ये ‘हवाना सिंड्रोम’ चर्चा में था।

    गौरतलब है की बीते दिनों अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस वियतनाम में थी। वहीं  हैरिस की वियतनाम यात्रा से पहले इस सिंड्रोम के 2 अलग अलग मामले वियतनाम में देखने को मिले थे। यह भी पता हो कि साल 2016 में क्यूबा की राजधानी हवाना से इस गंभीर बीमारी का पहला मामला सामने आया था। इसके बाद से ही इस भयंकर बीमारी का नाम ‘हवाना सिंड्रोम’ पड़ गया।

    क्या कहती है CIA ?

    इस गंभीर मुद्दे पर CIA के प्रवक्ता ने कहा है कि एजेंसी ऐसे मामलों और अधिकारियों पर टिप्पणी नहीं करती है। हालाँकि इस तरह के असामान्य घटनाओं के लिए हमारे पास प्रोटोकॉल है। जिसमें उचित इलाज भी शामिल हैं। वेस्टर्न मीडिया के मुताबिक बर्न्स के साथ आए खुफिया विभाग के इन अधिकारी के अमेरिका लौटते ही, उनका इलाज कराया गया। 

    अब तक कहां कितने मामले

    पता हो कि ‘हवाना सिंड्रोम’ (Havana Syndrome) से अबतक 200 से अधिक अमेरिकी अधिकारी व उनके परिवार के लोग संक्रमित भी हो चके हैं। इस बीमारी के बारे में और भी जानकारी ऑस्ट्रिया, चीन, रूस और जर्मनी में काम कर रहे अधिकारियों ने दी है। 

    क्या हैं इस बीमारी के लक्षण

    अब अगर हम इस बीमारी के लक्षण (Havana Syndrome Symptoms) की  बात करें तो इसमें 

    • मरीज में मतली की शिकायत।  
    • ठीक से सुनाई न देना। 
    • कई केसेस याद्दाश्त का भी कमजोर होना।
    • चक्कर आना और टिनटिस जैसे प्रधान लक्षण दिखते हैं।