देश | PM मोदी ने की PMJAY-SEHAT योजना लॉन्च, बोले- बंगाल में नहीं मिल पा रहे इसके लाभ | Navabharat (नवभारत)
ट्रेंडिंग टॉपिक्स
ब्रेकिंग न्यूज़
लाईव ब्लॉग
अंतिम अपडेटDecember, 26 2020

PM मोदी ने की PMJAY-SEHAT योजना लॉन्च, बोले- बंगाल में नहीं मिल पा रहे इसके लाभ

ऑटो अपडेट
द्वारा- Rahul Goswami
कंटेन्ट राइटर
13:35 PMDec 26, 2020

PM मोदी: जम्मू-कश्मीर में करायी जा रही हजारों सरकारी नौकरियां नोटीफाई

13:33 PMDec 26, 2020

PM मोदी: सेब के स्टोरेज से किसानों को बहुत लाभ हुआ

13:28 PMDec 26, 2020

PM मोदी बता रहे कश्मीर में हुए काम

13:23 PMDec 26, 2020

PM मोदी: जम्मू-कश्मीर में कोरोना को लेकर हुए कार्य प्रशंसनीय

13:19 PMDec 26, 2020

PM मोदी: डेढ़ करोड़ से ज्यादा गरीबों ने आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठाया

13:16 PMDec 26, 2020

PM मोदी: कोरोना में 10 लाख से ज्यादा शौचालय बनाए गए, 18 लाख सिलेंडर रिफिल हुए

13:14 PMDec 26, 2020

PM मोदी: जम्मू-कश्मीर हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक

13:13 PMDec 26, 2020

PM मोदी: पंचायतों का दायित्व काफी बड़ा

13:09 PMDec 26, 2020

PM मोदी: कुछ राजनीतिक दलों की कथनी और करनी में फर्क

13:07 PMDec 26, 2020

PM मोदी: जम्मू-कश्मीर में चुनावों ने ये भी दिखाया कि हमारे देश में लोकतंत्र कितना मजबूत

Load More

नयी दिल्ली. PM नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) आज यानी शनिवार को ‘आयुष्मान भारत’ (Aayushmaan Bharat) के तहत जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के लिए प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, सेहत (Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana, SEHAT) की शुरुआत करेंगे. बता दें कि इस योजना को ‘पीएम-जय’ के नाम से भी जाना जाता है. यह योजना के तहत जम्मू-कश्मीर राज्य में रहने वाले 21 लाख लोगों को स्वास्थ्य लाभ पहुंचाएगी. वहीं इस सुविधा का लाभ सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना के आधार पर तय किए गए पात्र लोगों को ही मिलेगा.

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि, “प्रधानमंत्री 26 दिसंबर को दोपहर 12 बजे वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत पीएम-जय सेहत की शुरुआत करेंगे. इस योजना में जम्मू एवं कश्मीर के सभी निवासियों को शामिल किया जाएगा.” इस अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) भी विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे.

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

मीडिया संस्थानों पर इनकम टैक्स की रेड, क्या प्रेस की आजादी को छीनने की कोशिश?

View Results

Loading ... Loading ...
Advertisement
OK

We use cookies on our website to provide you with the best possible user experience. By continuing to use our website or services, you agree to their use.   More Information.