किसान नेता राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)
किसान नेता राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: कृषि कानूनों को केंद्र सरकार ने वापस लेते हुए लोकसभा (Lok Sabha) और राज्यसभा (Rajya Sabha) से बिल भी पास करा लिया है। बावजूद इसके किसानों ने आंदोलन अभी तक खत्म नहीं किया है। एमएसपी (MSP) सहित कुछ मांगों को लेकर किसान अड़े हुए हैं। इन सब के बीच किसान संगठनों की आज सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर बैठक होने जा रही है। इस बैठक से पहले किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि बैठक में कोई हल निकलेगा ऐसी मुझे उम्मीद है। साथ ही आंदोलन पर आगे की रणनीति क्या होगी और कैसे बढ़ा जाए इस पर बात होगी। 

    राकेश टिकैत ने कहा कि आज बैठक में आंदोलन आगे कैसे बढ़ेगा और सरकार बातचीत करेगी तो कैसे बातचीत करनी है, इसपर चर्चा होगी। हरियाणा में मुख्यमंत्री, अधिकारियों और किसानों की कल बात हुई, जिसमें प्रदर्शन से संबंधित मामलों को वापस लेने पर सहमति बनी परन्तु मुआवजे पर सहमति नहीं बनी। 

    उन्होंने कहा कि एमएसपी की हमारी मांग भारत सरकार से है। बातचीत अभी शुरू हुई है, हम देखेंगे कि यह कैसे चलता है। हम आज कोई रणनीति विकसित नहीं करेंगे, हम सिर्फ चर्चा करेंगे की आंदोलन कैसे आगे बढ़ाया जाए। 

    टिकैत ने कहा कि कृषि कानून को छोड़ दें तो अभी चार से पांच बड़े मुद्दे हैं। जिसमें एमएसपी, किसानों के खिलाफ दर्ज मामले, केंद्रीय मंत्री टेनी के खिलाफ एक्शन और सरकार द्वारा जब्त ट्रैक्टर का समावेश है। ऐसे में अगर इन मामलों पर सकारात्मक फैसला हो जाता है तो आंदोलन खत्म होगा।