indian-navy
Pic: ANI

    नयी दिल्ली. नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार (Navy Chief Admiral R Hari Kumar) ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय नौसेना (Indian Navy) को भरोसा है कि वह भारत के समुद्री हितों की रक्षा करने में सक्षम है और वह देश के सामने मौजूद सुरक्षा संबंधी संभावित चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए अधिग्रहण की योजना बनाती है। नौसेना प्रमुख ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रस्तावित समुद्री कमान के ब्योरों पर काम चल रहा है और उन्होंने संकेत दिया कि इसकी मूल संरचना अगले साल तक तैयार हो सकती है।

    उन्होंने कहा कि भारतीय नौसेना की समग्र कार्य प्रणाली के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं की भूमिका को विस्तार देने पर काम जारी है। एडमिरल कुमार ने कहा कि भारतीय नौसेना हिंद महासागर में चीन की गतिविधियों पर नजर रखती है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 और उत्तरी सीमाओं के आस-पास बनी स्थितियों ने राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी जटिलताएं बढ़ा दी हैं।

    उन्होंने कहा कि भारतीय नौसेना हर प्रकार की सुरक्षा चुनौती से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि भारतीय नौसेना किसी भी प्रकार की सुरक्षा चुनौती से निपटने के लिए तैयार है।” एडमिरल कुमार ने कहा, ‘‘हमें पूरा भरोसा है कि हम भारत के समुद्री हितों की रक्षा करने में सक्षम हैं।” उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बावजूद, नौसेना ने युद्ध संबंधी तैयारियों को बरकरार रखा है।