corona
File Photo

  • कोरोना मरीजों का 1.84 लाख परीक्षण पूर्ण
  • राहत भरी खबर से लोगों के खिले चेहरे
  • अब तक 44 हजार से ज्यादा पॉजिटिव केस

जलगांव. कोरोना संक्रमण प्रकोप के बीच सोमवार को ज़िला प्रशासन द्वारा राहत भरी खबर मिलते ही ज़िले में नागरिकों के चेहरे खिल उठे हैं. जिले में संक्रमण से सेहतमंद होने का प्रतिशत निरंतर बढ़ता जा रहा है. अब रिकवरी रेट 75 फीसदी से भी अधिक हो गया है. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर ज़िले में थमने का नाम नहीं ले रहा है. जलगांव में अब तक इस महामारी के 44 हजार से ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं.

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच ज़िला शल्य चिकित्सक चौहान ने सोमवार को बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि ज़िले कोविड-19 रिकवरी रेट के मामले में जलगांव शीर्ष स्थान पर पहुंच गया है. सोमवार को जिला कोविड़ अस्पताल  से दिए गए आंकड़ों के मुताबिक, जलगांव में रिकवरी रेट 75.04 फीसदी हो गया है. रविवार को जिले से  एक ही समय में 605 ने संक्रमण पर मात दिया है. इसी तरह अभी तक 32 हजार 941 मरीज कोरोना से उबर चुके हैं. जिले में इलाज से ठीक होने वालों की दर 75.04 फीसदी तक पहुंच गई है, वर्तमान में जिले के विभिन्न अस्पतालों में ९ हजार ८६० सक्रिय रोगियों का इलाज चल रहा है.

 कोरोना श्रृंखला तोड़ने युद्धस्तर पर जांच

 जिला प्रशासन कोरोना वायरस के संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए युद्ध स्तर पर जिले के विभिन्न स्थानों पर जांच कर रहा है. अभी तक 1 लाख 83 हजार 808 संदिग्ध मरीजों के स्वैब की जांच की गई है. पिछले तीन दिनों में जिले में ठीक होने वाले रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है और सक्रिय रोगियों की संख्या दिन-प्रति दिन कम हो रही है. जिला कलेक्टर अभिजीत राऊत ने कहा कि यह खबर जिले के लिए राहत दायक है. जिले में कोरोना श्रृंखला को तोड़ने के लिए दैनिक परीक्षणों की संख्या बढ़ा दी गई है. जिला प्रशासन ने नागरिकों से अपील की है कि वे लक्षण महसूस होते ही नजदीकी अस्पताल में बिना घबराए कोरोना की जांच कराए, ताकि समय पर ही महामारी पर काबू पाया जा सके. जिले में अभी तक RT-PCR द्वारा 86 हजार 926 टेस्ट श्रृंखला को तोड़ने कराए गए हैं.

33 हजार रोगियों ने कोरोना को हराया

 रैपिड एंटीजन टेस्ट 96 हजार 882 की गई है. इस तरह वर्तमान में अभी तक 1 लाख 83 हजार 808 व्यक्तियों का कोरोना परीक्षण किया गया है. इनमें 1 लाख 38 हजार 63 संदिग्धों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है. इसी तरह से 43 हजार 897 व्यक्तियों की रिपोर्ट रविवार की देर शाम तक पॉजिटिव आई है. अन्य रिपोर्टों की संख्या 1,088  है. जिनमें 760 रिपोर्ट लंबित हैं. वर्तमान में 9 हजार 860 संक्रमित मरीजों का जिले में इलाज चल रहा है. जिसमें कोविड केअर सेंटर में 4 हजार 890 रोगी, डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में 807, डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में 669 मरीजों का इलाज किया जा रहा है. वहीं 3 हजार 494 मरीजों को घरेलू अलगाव में इलाज किया जा रहा है. इसके अलावा आइसोलेशन वार्ड के 438 मरीज हैं. अस्पताल में इलाज हेतु भर्ती मरीजों में 8 हजार 384 मरीज को कोरोना के लक्षण नहीं है. लक्षणों वाले रोगियों की संख्या 1 हजार 476 है. इनमें से 669 मरीज ऑक्सीजन गैस पर हैं और 287 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं. जिले में संक्रमित मरीजों की मृत्यु दर को 2.50 प्रतिशत तक लाने में प्रशासन सफल रहा है। कोरोना स्थिति को संभालने के लिए CCC और जिले के अन्य अस्पतालों में 12 हजार 854 बेड हैं. इसमें 263 आईसीयू बेड और 1,643 ऑक्सीजन युक्त बेड शामिल हैं.

तहसील निहाय संक्रमित रोगियों की संख्या

 ज़िले में 43 हजार 897 रोगी हैं. इसमें जलगांव शहर 9814, जलगांव ग्रामीण 2238, भुसावल 2689, अमलनेर 3836, चोपडा 3686, पाचोरा 1707, भडगांव 1698, धरणगांव 1951, यावल 1447, एरंडोल 2623, जामनेर 3099, रावेर 1808, पारोला 2235, चालीसगांव 2844, मुक्ताईनगर 1180, बोदवड 708,इसी तरह अन्य जिलों के 334 मरीज भी शामिल हैं.

तहसील निहाय कोरोना मुक्त हुए व्यक्ति

 इस तरह है.जलगांव शहर 6799, जलगांव ग्रामीण 1431, भुसावल 1898, अमलनेर 3030, चोपडा 2409, पाचोरा 1539, भडगांव 1491, धरणगांव 1552, यावल 1162, एरंडोल 1846, जामनेर 2396, रावेर 1320, पारोला 1709, चालीसगांव 2495, मुक्ताईनगर 1122, बोदवड 524, अन्य ज़िले के 218 व्यक्ति मिला कर अभी तक 32 हजार 941 रोगी कोरोनामुक्त हुए. सक्रिय रोगियों की संख्या जिले के तहसील अनुसार इस प्रकार है। जिले के विभिन्न कोविड-19 अस्पतालों में 9 हजार 860 एक्टिव रोगी हैं. इन व्यक्तियों में जलगाव शहर 2786, जलगांव ग्रामीण 733, भुसावल 669, अमलनेर 716, चोपडा 1209, पाचोरा 102, भडगांव 167, धरणगांव 353, यावल 233, एरंडोल 736, जामनेर 637, रावेर 406, पारोला 509, चालीसगांव 282, मुक्ताईनगर 32, बोदवड 174 तथा अन्य जिलों के  116 सक्रिय रोगियों का इलाज किया जा रहा है.

 संक्रमित रोगियों की मूर्ति संख्या तहसील अनुसार इस तरह है. रविवार की देर शाम तक जिले में संक्रमण से 1 हजार 96 कोरोना प्रभावित मरीजों की मौत हुई है.इन मे जलगाव शहर 229, जलगांव ग्रामीण 74, भुसावल 122, अमलनेर 90, चोपडा 68, पाचोरा 66, भडगांव 40, धरणगांव 46, यावल 52, एरंडोल 41, जामनेर 66, रावेर 82, पारोला 17, चालीसगांव 67, मुक्ताईनगर 26, बोदवड 10 लोगों की मौत हुई. उपचार के दौरान मरने वाले कुल 1,096 रोगियों में से 956 की मृत्यु 50 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में और 508 की मृत्यु कोरोना और बीमारियों के कारण हुई.

जिले में 5 हजार 22 स्थानों प्रतिबंधित क्षेत्र

कोरोना वायरस संक्रमण की श्रंखला को तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने जिले में विभिन्न स्थानों पर 5 हजार 22 स्थानों पर कंटेनमेंट जोन बनाया है. ग्रामीण इलाकों में 2 हजार 279, शहरी परिक्षेत्र 1 हजार 280 वहीं जलगांव महापालिका क्षेत्र में 1 हजार 463 इलाकों में प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किया गया है. इन क्षेत्रों का सर्वेक्षण करने के लिए 6 हजार 236 टीमें काम कर रही हैं.  इस क्षेत्र में 2 लाख 54 हजार 476 घर और 11 लाख 10 हजार 910 की आबादी है.