रक्षाबंधन में बनाएं “चंद्रकला”, आधे घंटे में हो जाएगी तैयार

    सीमा कुमारी

    बहन-भाई के बीच प्रेम का प्रतीक ‘रक्षाबंधन। हर साल सावन महीने की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस साल यह त्योहार 22 अगस्त, अगले रविवार को मनाया जाएगा। इस त्योहार को लेकर बहनों में ख़ास उमंग, उत्साह देखी जाता है।

    रक्षाबंधन के शुभ अवसर पर बहन अपने भाई की कलाई में राखी बांधती है और मिठाई खिलाती है। अगर आप भी सोच रही हैं कि इस बार भाई को मीठे में क्या खिलाया जाए, तो आप अपने भाई को बिहार की पारंपरिक मिठाई ‘चंद्रकला’ बनाकर खिला सकती हैं। चंद्रकला काफी स्वादिष्ट मिठाई होती है। इस मिठाई को आसानी से घर में बनाया जा सकता है।

    आइए जानें ‘चंद्रकला’ मिठाई की रेसिपी –

     सामग्री:

    मैदा-300 ग्राम

    चीनी-3 कप

    खोया-150 ग्राम

    इलाइची पाउडर-1 चम्मच

    सूजी-70 ग्राम

    घी-3 चम्मच

    नारियल (कद्दूकस किया हुआ)-2 चम्मच 

    बादाम पाउडर-2 चम्मच

    तेल-2 कप 

     बनाने की विधि

    ‘चंद्रकला’ मिठाई बनाने के लिए पहले खोआ और सूजी को भून लेना है। खोआ और सूजी को भूनने के बाद किसी बर्तन में निकाल लें। इसके बाद इसमें बादाम पाउडर, चीनी पाउडर और इलाइची पाउडर मिला लें। एक अलग बर्तन में मैदा और घी मिला लीजिए और इसे अच्छे से गूंथ लीजिए।गूंथने के बाद इसे कुछ देर के लिए गीले कपड़े से ढंक कर रख दीजिए।

    15 मिनट बाद इस आटे को पूड़ी की तरह बेल लीजिए और इसके ऊपर तैयार मिश्रण को डाल लीजिए। अब इसे हाथों से गुजिया की तरह डिजाइन में तैयार करें।

    इसके बाद एक पैन में तेल गर्म कर लें और इसमें आपने मिश्रण से जो गुजिया की तरह डिजाइन बनाए हैं, उन्हें डाल दें।

    एक कढ़ाई में चीनी और पानी डालकर चाशनी तैयार कर लें। चाशनी थोड़ी गाढ़ी होनी चाहिए। इसके बाद फ्राई की हुई चंद्रकला मिठाई को 2 मिनट के लिए चाशनी में डाल दें। 2 मिनट बाद आप इसे बाहर निकालकर सर्व कर सकती हैं। आप इसके ऊपर रबड़ी भी डाल सकती हैं।