Action on rotating masks, fine of two hundred rupees

    भोपाल: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona Virus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार (State Government) ने कई निर्णय महत्वपूर्ण निर्णय लिए। सरकार ने एक बार फिर राजधानी भोपाल (State Capital Bhopal) और राज्य की आर्थिक राजधानी इंदौर (Indore) में मास्क अनिवार्य कर दिया है। इसी के साथ महाराष्ट्र (Maharashtra) से आने वाले लोगों की कोरोना जांच कराने का आदेश दिया है।  

    रज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक बुलाई थी इस बैठक में कोरोना के प्रसार को कम करने के लिए गए कार्यो की समीक्षा की है इसी के साथ भोपाल और इंदौर में मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया। साथ ही कोई बिना मास्क दिखा तो उसपर कार्यवाही करने का आदेश भी दिया

    महाराष्ट्र से आने वाले हर व्यक्ति का हो आरटी पीसीआर 

    बैठक में मुख्यमंत्री ने महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीमा से लगे हुए जिलों में बेहद सतर्कता बरतने का आदेश दिया है। इसी के साथ वहां से आने वाले हर व्यक्ति का आरटी पीसीआर टेस्ट कराने का भी आदेश दिया है। मुख्यमंत्री चौहान ने अगले महीने आने वाले शिवरात्रि के मौके पर विशेष ध्यान देने का आदेश अधिकारीयों को दिया है

    राज्य गृहमंत्रालय ने जारी किया आदेश 

    राज्य गृह विभाग ने भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, बैतूल, सिवनी, छिंदवाड़ा, बालाघाट, बड़वानी, खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर, अलीराजपुर और महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों को कोरोना से संबंधित जिला संकट प्रबंधन समितियों की बैठक बुलाने के लिए कहा है।