Sangli Municipal Corporation

  • एनसीपी अध्यक्ष पाटील की रणनीति सफल
  • भाजपा को पूर्ण बहुमत, नहीं आया काम

मुंबई.  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल (Jayant Patil) ने राज्य भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (State BJP President Chandrakant Patil) को एक और बड़ा झटका दिया है विधान परिषद चुनाव में मिली पराजय के बाद सांगली महानगरपालिका (Sangli Municipal Corporation) भी भाजपा के हाथ से फिसल गयी है मनपा में भाजपा को बहुमत होने के बावजूद महापौर चुनाव (Mayor Election) में महाविकास आघाड़ी का उम्मीदवार निर्वाचित हुआ है भाजपा नगरसेवकों (BJP Corporators) की बगावत की वजह से एनसीपी उम्मीदवार दिग्विजय सूर्यवंशी 3 वोट से निर्वाचित हुए हैं उन्होंने भाजपा के धीरज सुर्यवंशी को मात दी

सांगली मनपा में कुल 78 नगरसेवक हैं पिछले मनपा चुनाव में भाजपा के 41 नगरसेवक निर्वाचित हुए थेमहापौर चुनाव के लिए 39 वोट की ही जरुरत थी, जिससे भाजपा का महापौर निर्वाचित होना तय था, लेकिन एनसीपी अध्यक्ष जयंत पाटिल ने भाजपा को उसी के हथियार से पराजित कर दिया भाजपा और कांग्रेस ने भाजपा के 6 नगरसेवकों को अपने पाले में कर लिया दो नगरसेवक मतदान में शामिल ही नहीं हुए जिसकी वजह से एनसीपी के उम्मीदवार  दिग्विजय सुर्यवंशी को 39 और भाजपा के धीरज सुर्यवंशी को 36 वोट मिले

उप महापौर पद पर कांग्रेस के खाते में गया

बताया गया कि चुनाव के पहले ही भाजपा के 7 नगरसेवक नॉट रिचेबल थे जिसकी वजह से भाजपा खेमें में घबराहट फ़ैल गयी थी सत्ता कायम रखने को लेकर भाजपा नेताओं ने अंतिम क्षण तक प्रयास किया, लेकिन सत्ता की हनक और जयंत पाटील की रणनीति के चलते किसी की नहीं चली उप महापौर पद पर कांग्रेस के खाते में गया है

मनपा में दलगत स्थिति 

  • कुल नगरसेवक  -78 
  • भाजपा  – 41 
  • कांग्रेस –  20  
  • एनसीपी  – 15 
  • निर्दलीय – 2