UDHHAV

    मुंबई. जहाँ एक तरफ महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देख उद्धव सरकार (Uddhav Thackeray) बड़ी चिंता में बैठी हुई है। वहीं अब संभावना यह भी जताई जा रही है कि आगामी मंगलवार (Tuesday) से मुंबई (Mumbai) और कुछ इलाकों में कोरोना सम्बन्धी पाबंदियां लगाई जा सकती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस बार के प्रतिबंधों में दफ्तरों में उपस्थिति के नए तरीके, धार्मिक स्थलों पर भीड़ का नियंत्रण और सामाजिक कार्यक्रमों को लेकर भी अब नए नियम सामने लाये जा सकते हैं।

    हालाँकि इसके पहले भी राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray)  लॉकडाउन (Lockdown) को लेकर सभी प्रदेशवासियों को पहले ही चेतावनी दे चुके हैं। इसके साथ ही उन्होंने कोविड नियमों (Covid Protocols) के सख्त पालन करने की वकालत भी की थी।

    जहाँ बीते शनिवार को विदर्भ के नागपुर में सबसे ज्यादा 1828 मामले दर्ज किए गए थे। वहीं इसके बाद मुंबई में 1709, पुणे में 1667 और नाशिक में 1522 मरीज मिले थे। अब राज्य के सबसे प्रभावित जिलों में मुंबई, पुणे, नागपुर, नाशिक और ठाणे का नाम प्रमुख रूप से शामिल हो चूका है। वहीं, अब 15 हजार 602 नए मरीजों की आने से राज्य में चिताएं बढ़ा दी हैं। देखा जाए तो महाराष्ट्र के अलावा देश के दूसरे राज्यों में भी कोरोना संक्रमण अपने पैर पसरता दिख रहा है। जिसके चलते अब इन राज्यों को लेकर भी केंद्र सरकार अलर्ट है।

    बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते मुख्यमंत्री ठाकरे ने राज्य में होटल और रेस्टोरेंट्स से कोविड नियमों के सख्ती से पालन करने की बात कही है। इसके साथ ही साथ ही उनकी यह भी चेतावनी है कि लॉकडाउन लागू करने के लिए उन्हें मजबूर न किया जाए। इसके चलते CM उद्धव ने हाल ही में होटल और रेस्टोरेंट्स एसोसिएशन्स के प्रतिनिधियों से एक वर्चुअल मीटिंग भी की थी। इस दौरान उन्होंने कोरोना संक्रमण के दौरान लोगों के लापरवाह रवैये का जिक्र भी किया था साथ ही उन्होंने इसे आखिरी चेतावनी भी कहा था।

    CM उद्धवठाकरे ने कहा, “हमें लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर न करें। इसे आखिरी चेतावनी समझें। नियमों का पालन  करें। सभी को यह समझना होगा कि आत्म-अनुशासन और पाबंदियों में बहुत फर्क होता है।” बता दें की CM ठाकरे आगामी मंगलवार को राज्य की कोविड-19 टास्क फोर्स के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक करने जा रहे हैं। वहीं वे उपमुख्यमंत्री  अजित पवार, स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और मुख्य सचिव सीताराम कुंटे से भी इस बाबत एक चर्चा करेंगे।

    विदित हो कि महाराष्ट्र के कई इलाकों में वैसे ही आंशिक लॉकडाउन और पाबंदियां जारी हैं। वहीं, अब यह भी माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अब आगामी मंगलवार को माइक्रो लॉकडाउन के लिए नए नियम और कंटेनमेंट जोन की भी घोषणा कर सकते हैं। यह भी खबर है कि टास्क फोर्स ने राज्य सरकार से कॉलोनियों में वैक्सीन केंद्रों को बढ़ाने और घर-घर जाकर कोरोना टीका की सेवा देने की अपील भी की है। एक अच्छी बात यह है कि बढ़ते मामलों के बीच मृत्यु दर कम है। फिलहाल कोरोना मृत्यु दर का आंकड़ा मुंबई में 0.5 %  तो समूचे महाराष्ट्र में 2.5% है।