यहाँ लोग कोरोना से नहीं बल्कि ‘इनके’ डर से हैं घरों में रहने को मजबूर…

  • करते हैं हमला, छिनते हैं खाना

औरंगाबाद (महाराष्ट्र). महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद (Aurangabad) जिले के एक गांव के लोग बंदरों (Monkeys) के डर में जी रहे हैं, जहां करीब 300 बंदर लगातार लोगों पर हमला कर रहे हैं और उनके खेतों तथा घरों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि बंदर काफी समय से उपला गांव (Upla Village) में हैं, लेकिन पिछले कुछ महीनों से उनके हमले काफी बढ़ गए हैं।

Representative Pic

बंदरों से हैं परेशान, लेकिन करता नहीं कोई शिकायत: 

वन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी से सम्पर्क करने पर उन्होंने ‘बताया कि उन्हें गांव से बंदरों की कोई शिकायत नहीं मिली है। सिल्लोड ताल्लुका स्थित इस छोटे से गांव में करीब 1600 लोग ही रहते हैं और अधिकतर लोग आजकल बंदरों के डर के कारण घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। महिलाएं और बच्चे भी बंदरों से डरे हुए हैं। यहां बंदर रसोई में घुसकर रोटी ले जाते हैं, लोगों के हाथों से खाना छीन लेते हैं और उन्हें रोकने की कोशिश करने पर वे उन पर हमला कर देते हैं।

Representative Pic

गाँव के लोग हैं त्रस्त:

गांव के एक निवासी ने कहा, ‘‘ बंदरों के झुंड ने कई किसानों की फसलें बर्बाद कर दी हैं। यहां तक कि लोगों को गांव में चलने से भी डर लग रहा है।” उपला गांव की सरपंच मीराबाई सुधाकर ने बताया कि बंदर गांव में कई वर्षों से हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ लेकिन अब उनका आतंक काफी बढ़ गया है। गांव में करीब 300 बंदर हैं। उन्होंने कई घरों की छत्तें भी तोड़ दी हैं।” वहीं वन विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘ हमें उपला गांव से बंदरों से जुड़ी कोई शिकायत नहीं मिली है। अगर शिकायत मिलेगी तो, हम कार्रवाई करेंगे।” 

Representative Pic