मेट्रो कार शेड के लिए कांजुरमार्ग भूखंड में मिट्टी परीक्षण का काम शुरू – आदित्य ठाकरे

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे (Environment Minister Aditya Thackeray) ने बुधवार को कहा कि मेट्रो कार डिपो (Metro Car Depo) निर्माण के लिए मुंबई के कांजुरमार्ग भूखंड (Kanjurmarg Plot) में मिट्टी परीक्षण (Soil Testing) का काम शुरू हो गया है। उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Udhav Thackeray) ने आरे कालोनी (Aare Colony) से मेट्रो कार शेड स्थानांतरित करने की घोषणा की थी।

आदित्य ठाकरे ने यह भी ट्वीट किया कि कार डिपो परियोजना के लिए मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) को कांजुरमार्ग भूखंड सौंप दिया गया है। आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया, ‘‘आज सुबह, सीएमओ, एमएमआरडीए, एमएमआरसीएल के अधिकारियों ने कार डिपो के लिए एमएमआरडीए को सौंपे गए कांजुरमार्ग भूखंड का दौरा किया। मेट्रो लाइन 3 और 6 कार डिपो यहां बनाए जाएंगे और संशोधित योजना के साथ सम्पर्क बढ़ेगा। मिट्टी परीक्षण पहले ही शुरू हो चुका है। मैंने भी भूखंड देखा।”

उन्होंने यह भी बताया कि महानगर की सीमा में एक प्रमुख हरित क्षेत्र, आरे कॉलोनी में 808.531 एकड़ जंगल के लिए भारतीय वन अधिनियम की धारा 4 के तहत एक अधिसूचना जारी की गई है। आदित्य ठाकरे ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘मैं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी, उप मुख्यमंत्री अजीत पवार जी, राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट जी, डेयरी मंत्री सुनील केदार जी और वन मंत्री संजय राठौड़ जी को तहे दिल से धन्यवाद देता हूं।”

मुख्यमंत्री ठाकरे ने रविवार को मेट्रो 3 कार शेड के स्थानांतरण की घोषणा करते हुए कहा था कि परियोजना के लिए कांजुरमार्ग भूमि शून्य दर पर उपलब्ध होगी। ठाकरे ने कहा था कि उनकी सरकार ने पहले आरे के 600 एकड़ को वन घोषित किया था लेकिन इसे अब 800 एकड़ कर दिया गया है। आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया, ‘‘मुझे मुंबई के आकार और व्यावसायिक महत्व वाले कोई अन्य शहर की याद नहीं जिसने शहर की सीमा में इतने बड़े भू-भाग को यह दर्जा दिया हो।” इस बीच, भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कांजुरमार्ग में निर्मित होने वाली मेट्रो कार शेड परियोजनाओं की वित्तीय व्यवहार्यता पर अपनी चिंताओं को दोहराया है।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘परियोजना के लिए (आरे कॉलोनी में) 76 प्रतिशत सुरंग निर्माण कार्य पहले से ही किया जा चुका है, लेकिन अगले चार से पांच साल में कोई कार डिपो नहीं आना परियोजना के वित्तीय व्यवहार्यता लिए ‘एंडगेम’ होगा। यह कहने की आवश्यकता नहीं है कि लागत में हुई वृद्धि लोगों की जेब से टिकट के रूप में वसूली जाएगी।” प्रस्तावित मेट्रो 3 मार्ग दक्षिण मुंबई के कोलाबा से उपनगरीय बांद्रा होते हुए सीप्ज तक है जबकि लाइन 6 उपनगरीय विक्रोली को लोखंडवाला से जोड़ेगी। (एजेंसी)