crime

मुंबई. मालवणी में पिता को बचाने गए बेटे नजीर उर्फ कालु की चाकू मार कर हत्या कर दी गयी. इस वारदात में 2 युवक गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें पास के अस्पताल में ले जाया गया. मालवणी पुलिस ने हत्या और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है इस मामले में 2 महिलाओं समेत 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

मालवणी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक जगदेव कालापाड ने बताया कि मालाड (प.) के मालवणी स्थित गेट नंबर-3 में सुलतान हुसेन शेख रहते हैं. आए दिन उनके घर के सामने आपराधिक गतिविधियां होती थी. इससे परेशान होकर अपने घर के सामने सीसीटीवी लगा दिया. सुलतान के पड़ोस में रहने वाले रिलेटिव शहनवाज कुरेशी ने उनके सीसीटीवी लगाने का विरोध किया. इस बात को लेकर सुलतान से शहनवाज का विवाद हुआ. रविवार की रात 12.30 शहनवाज ने कुछ लोगों के साथ सुलतान के घर के बाहर आ कर गाली गलौज करने लगा. सुलतान ने जब उसे ऐसा करने से रोका, तो शहनवाज और उसके साथ आई 2 महिलाओं समेत 6 आरोपियों ने सुलतान के साथ मारपीट शुरू कर दी. इस बीच सुलतान को बचाने उनके 2 बेटे नजीर, जमाल और पड़ोसी फैज और राकेश पांडे आए. हमलावरों ने उन पर चाकू से हमला कर दिया. इस हमले में सुलतान का बेटा नजीर, पड़ोसी फैज और राकेश पांडे गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें पास के अस्पताल में ले जाया गया, जहां नजीर की मौत हो गयी. 

पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया 

मालवणी पुलिस ने हत्या और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया. पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर दो महिला समेत 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों की पहचान शहनवाज लियाकत कुरेशी, रमजान लियाकत कुरेशी, शाहरुख लियाकत कुरेशी, नदीम हजीबुल रहमान मलिक, उसकी पत्नी जायदा और फरीदा युसूफ खान के रूप में हुई है.