arrested
File

नागपुर. कपिलनगर पुलिस के क्विक एक्शन से पंजाब के अंतरराज्यीय ट्रक लुटेरे हवालात पहुंच गए. नवेगांव बांध पुलिस की मदद से पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया. पकड़े गए आरोपी चोलासाहब, तरणताल, पंजाब निवासी शरदुलसिंह बलदेवसिंह संधू (45) और विक्रमजीतसिंह सुखविंदरसिंह पन्नू (41) का समावेश है. दोनों आरोपियों के खिलाफ ट्रक चोरी और लूट के कई मामले दर्ज है. आर्यनगर निवासी अमोल राऊत ने 9 दिसंबर की रात अपना एमएच-46/बीएम-2312 नंबर का ट्रक सुगतनगर के मैदान में खड़ा किया था.

ट्रक का क्लीनर ऋतिक चव्हाण रखवाली के लिए केबिन में सोया था. रात 3 बजे के दौरान दोनों आरोपियों ने दरवाजे पर दस्तक दी. ऋतिक ने दरवाजा खोला ही था कि दोनों भीतर घुस गए. उसे डरा-धमकाकर अपने साथ ले गए. सुनसान स्थान पर ऋतिक से मोबाइल फोन लूट लिया और ट्रक लेकर भाग गए. ऋतिक ने एक ढाबे पर जाकर अमोल को फोन किया. अमोल ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. ट्रक में जीपीएस लगा हुआ था. इसकी मदद से पुलिस ने ट्रक का पीछा किया. ट्रक जबलपुर हाई-वे पर होने की जानकारी मिली.

चोरी और लूट के कई मामले दर्ज

नवेगांव बांध परिसर में जाकर ट्रक रुक गया. स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी दी गई. नवेगांव बांध पुलिस ट्रक तक पहुंच गई, लेकिन दोनों आरोपी भाग चुके थे. कपिलनगर पुलिस ने ट्रक बरामद कर लिया. ऋतिक द्वारा बताए गए हुलिए के अनुसार नवेगांव बांध पुलिस की मदद लेकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. उनसे ऋतिक का मोबाइल भी जब्त किया गया. जांच में पता चला कि दोनों के खिलाफ अनेक मामले दर्ज है. ट्रक चोरी और लूटपाट की वारदातों को अंजाम देते है. डीसीपी जोन 5 निलोत्पल और एसीपी परशुराम कार्यकर्ते के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर मुख्तार शेख, संजय मेंढे, एपीआई बी.बी.पालकर, हेड कांस्टेबल बंडू कलंबे, कांस्टेबल सूर्यकांत इंगले, रवींद्र राऊत, योगेश हिवरकर, राजू तायड़े, प्रवीण मरापे और गजानन गेडाम ने कार्रवाई को अंजाम दिया.