Kidnapping

नागपुर. बड़ा ताजबाग के फुटपाथ पर रहने वाली एक दंपति के 3 वर्षीय बेटे का बगल में रहने वाले युवक ने अपहरण कर लिया. शिकातय मिलते ही पुलिस काम में जुट गई और 48 घंटे के भीतर आरोपी को इंदौर में दबोच लिया गया. गुरुवार को तड़के अपहृत बालक और आरोपी को लेकर पुलिस दस्ता नागपुर पहुंचेगा.

नांदेड़ में लॉकडाउन के चलते रोजगार छिन जाने के बाद समीर शेख और फिरदोस फातीमा अपने 3 वर्षीय बेटे अदनान के साथ नागपुर आ गए. 6 महीने से बड़ा ताजबाग के सराय के समीप फुटपाथ पर झोपड़ी बनाकर रह रहे थे. 2 महीने पहले फारुख उर्फ बंब्या भी वहां आकर रहने लगा. अक्सर वह अदनान को अपने साथ चॉकलेट दिलाने ले जाता था.

परिवार के साथ भी उसके अच्छे संबंध थे. सोमवार को वह अदनान को पतंग दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया और 2-3 घंटे तक लौटा नहीं. फिरदोस को चिंता हुई. उसने पूरे इलाके में तलाश की लेकिन दोनों का कुछ पता नहीं चला. आखिर सक्करदरा पुलिस को सूचना दी गई. शिकायत मिलते ही पुलिस ने फारुख का नंबर ट्रेस करना शुरु कर दिया.

आखिर उसके इंदौर में होने की जानकारी पुलिस को मिली. तुरंत एक दल नागपुर से रवाना हुआ. स्थानीय पुलिस की मदद लेकर उसे गिरफ्तार किया गया. अदनान भी सकुशल था. बताया जाता है कि फारुख मूलत: नेपाल का रहने वाला है और वह अदनान को अपने साथ नेपाल ले जाने वाला था.